बुधवार, अगस्त 10, 2022
Advertisement
होमIndia Newsराजस्थान में आरक्षण को लेकर आंदोलन का ऐलान, पीले चावल बांटकर दे...

राजस्थान में आरक्षण को लेकर आंदोलन का ऐलान, पीले चावल बांटकर दे रहे बुलावा

जयपुर। राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सदियों से शादी से पहले एक चर्चित और काफी पुरानी परंपरा रही है। इस परंपरा के तहत लोगों को व रिश्तेदारों को पीले चावल बांटकर शादी में आने के लिए न्यौता दिया जाता था। लेकिन अब उस पुरानी परंपरा का उपयोग बदल चुका है। क्योंकि अब पीले चावल बांटने की परंपरा का उपयोग शादी-विवाह में निमंत्रण देने के लिए नहीं बल्कि आंदोलन में आने के लिए निमंत्रित किया जा रहा है।

आंदोलन का ऐलान

दरअसल आरक्षण को लेकर प्रदेश में एक बड़े आंदोलन की तैयारी चल रही है। यहां कुशवाह, सैनी, शाक्य और मौर्य समाज ने 12 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर 12 जून को राजस्थान में चक्का जाम करने का ऐलान कर दिया है। भरतपुर में इस समाज के नेता आरक्षण की मांग को लेकर गांव-गांव जाकर पीला चावल बांट रहे हैं और लोगों को इस आंदोलन में सम्मिलित होने का निमंत्रण दे रहे हैं।

यह भी पढ़े :-बारातियों से भरी कार पर चढ़ा ट्रक, एक ही परिवार के 8 लोगों की मौत

जिले के करीब 8 गांव में आरक्षण संघर्ष समिति एवं सम्राट अशोक सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा जन जागृति अभियान के तहत लोगों को जागरूक किया जा रहा है। गांव-गांव जाकर लोगों से अपील की जा रही है कि 12 जून को जयपुर आगरा नेशनल हाईवे पर जमा हो जाएं और चक्का जाम किया जाए। सम्राट अशोक सेना के प्रदेश अध्यक्ष शैलेंद्र कुशवाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सभी समाजों के लिए आरक्षण लेना हमारा अधिकार है। जिससे हमारी पीढ़ियों को फायदा मिल सके। आरक्षण की मांग के लिए समाज के सभी लोगों को एकजुट होकर आंदोलन करना होगा।

समाज के नेताओं का आरोप है कि हमारी समाज के लोगों के पास ना तो उद्योग-धंधे हैं ना कोई सरकारी नौकरियां हैं। समाज के अधिकतर लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने के लिए मजबूर हो रहे हैं। इसलिए इन समाजों के लिए आरक्षण की बेहद आवश्यकता है। समाज के नेताओं ने 12 प्रतिशत आरक्षण की मांग उठाई है।

यह भी पढ़े :- Rajasthan High Court : राजस्थान हाईकोर्ट के इतिहास में पहली बार पति-पत्नी होंगे न्यायाधीश

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments