शुक्रवार, अगस्त 19, 2022
Advertisement
होमIndia NewsUPSC SUCCESS STORY : एक-दो नहीं बल्कि परिवार के 4 बच्चों ने...

UPSC SUCCESS STORY : एक-दो नहीं बल्कि परिवार के 4 बच्चों ने क्लियर किया UPSC, बन गए IAS, IPS अधिकारी

नई दिल्ली। यूपीएससी की परीक्षा (Union Public Service Commission) देश की सबसे कठिन परीक्षा (UPSC Civil Services Examination) में से एक हैं। इसे पास करने के लिए दिन रात एक करने पड़ते हैं। हर साल लाखो स्टूडेंट्स इस परीक्षा की तैयारी करते हैं। लेकिन कुछ हजार लोग ही इस परीक्षा पास कर पाते हैं। आज हम आपको एक ऐसे परिवार के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां एक-दो नहीं बल्कि चार भाई-बहनों ने यूपीएससी (UPSC Exam) की परीक्षा पास की है। जी हां, उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लालगंज जिले में रहने वाला एक परिवार ऐसा है, जिसके चार लोगों ने यूपीएससी एग्जाम पास किया और वे सभी IAS और IPS पद पर कार्यरत है।

इन चार भाई बहनों में दो भाई और दो बहनें हैं। उनके पिता, अनिल प्रकाश मिश्रा ने एक न्यूज वेबसाइट को इंटरव्यू देते हुए बताया, ‘मैं एक ग्रामीण बैंक में मैनेजर था। मैंने अपने बच्चों की शिक्षा की गुणवत्ता से कभी समझौता नहीं किया। मैं चाहता था कि उन्हें अच्छी नौकरी मिले और मेरे बच्चे भी अपनी पढ़ाई पर ध्यान दें।’ चार भाई-बहनों में सबसे बड़े योगेश मिश्रा आईएएस अधिकारी हैं। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा लालगंज में पूरी की और फिर मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में इंजीनियरिंग की। उन्होंने नोएडा में नौकरी की, लेकिन सिविल सेवा की तैयारी जारी रखी। साल 2013 में, उन्होंने यूपीएससी परीक्षा पास की और आईएएस अधिकारी बन गए।

योगेश मिश्रा की बहन, क्षमा मिश्रा, जो सिविल सेवा की तैयारी कर रही थीं, अपने पहले तीन प्रयासों के दौरान इसे पास नहीं कर सकीं। हालांकि, उसने अपने चौथे प्रयास के दौरान परीक्षा पास की और अब एक IPS अधिकारी हैं। तीसरी बहन, माधुरी मिश्रा, लालगंज के एक कॉलेज से ग्रेजुएट होने के बाद, पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए इलाहाबाद चली गईं। इसके बाद उन्होंने 2014 में यूपीएससी की परीक्षा सफलतापूर्वक पास की और झारखंड कैडर की आईएएस अधिकारी बन गईं। लोकेश मिश्रा, जो चारों में सबसे छोटे हैं, उन्हों साल 2015 में यूपीएससी की परीक्षा में 44वां स्थान हासिल किया था। अब वह IAS अधिकारी हैं। चारों भाई बहनों के पिता ने कहा, ‘आज मेरे बच्चे IAS, IPS अधिकारी हैं। अब मैं भगवान से क्या मांग सकती हूं। मुझे सब मिल गया। अपने बच्चों की वजह से आज मेरा सिर शान से उठा रहता है। बच्चों की तरक्की देखकर मैं प्राउड फील करता हूं।’

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments