बुधवार, अगस्त 17, 2022
Advertisement
होमRajasthan Newsउदयपुर हत्याकांड के बाद राजसमंद के भीम में तनाव, पुलिस पर तलवार...

उदयपुर हत्याकांड के बाद राजसमंद के भीम में तनाव, पुलिस पर तलवार से हमला, CM गहलोत ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल के मर्डर (Udaipur Tailor Kanhaiya Lal Murder Case) पर बवाल के बीच राजसमंद के भीम इलाके में कॉन्स्टेबल पर तलवार से हमला हुआ है। लोग यहां उदयपुर की घटना का विरोध कर रहे थे। उदयपुर हत्याकांड (Udaipur Murder Case) के विरोध में राजसमंद जिला बंद के दौरान भीम में भी विभिन्न संगठनों की ओर से प्रदर्शन किया जा रहा था, तभी यह घटना हुई। माहौल बिगड़ने पर पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े। भीम वहीं जगह है जहां से उदयपुर हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ा गया था। सूत्रों के मुताबिक प्रदर्शन के दौरान एकत्र भीड़ में कुछ युवक माहौल बिगाड़ने लगे। पुलिस ने रोका तो भीड़ में से एक युवक ने कॉन्स्टेबल संदीप चौधरी के गर्दन पर तलवार से वार कर दिया। इस हमले के बाद मौके पर तनाव का माहौल हो गया। पुलिस को भी आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

इधर, कॉन्स्टेबल को प्राथमिक उपचार के बाद ब्यावर और उसके बाद उसे अजमेर रेफर किया गया। तलवार से हमला करने वाले युवक के बारे में पता नहीं चला है। राजसमन्द एसपी सुधीर चौधरी व एडीएम रामचरण शर्मा है मौके पर पहुंचे और सभी से शांति बनाएं रखने की अपील की। इस मुद्दे को लेकर राजसमंद में भी बाजार बंद रहे। इधर, पूरे केस का इन्वेस्टिगेशन NIA ने अपने हाथ में ले लिया है। दोनों आरोपियों के खिलाफ UAPA के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। टेरर एंगल से भी मामले की जांच की जा रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी हालात पर चर्चा के लिए आज शाम को ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई है।

कन्हैयालाल के अंतिम संस्कार में उमड़े लोग

​​​​​​​इधर, मंगलवार को मारे गए कन्हैयालाल का बुधवार दोपहर अंतिम संस्कार कर दिया गया। शहर में कर्फ्यू के बाद उनकी अंतिम यात्रा में भारी भीड़ जुटी। लोगों ने ‘हत्यारों को फांसी दो’ के नारे लगाए। कन्हैया की हत्या के विरोध में शहर भी बंद रहा। पोस्टमार्टम के बाद उनका शव घर ले जाया गया, तो उनकी पत्नी ने रोते हुए कहा कि हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए, नहीं तो ये लोग कई लोगों को मारेंगे।

कन्हैया लाल के बेटे की मांग, हत्यारों का एनकाउंटर हो या मिले फांसी

कन्हैया लाल के बेटे ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि या तो उनका (हत्यारों का) एनकाउंटर हो जाए या उन्हें फांसी पर लटका दिया जाए। उनमें डर पैदा करने की जरूरत है।

कन्हैया की हत्या कैसे और क्यों हुई?

10 दिन पहले नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले कन्हैयालाल का मर्डर कर दिया गया। गौस और रियाज मंगलवार को दिनदहाड़े उसकी दुकान में घुसे। कपड़े सिलवाने के बहाने दुकान में घुसे आरोपियों ने धारदार हथियार से हमला किया। तलवार से कई वार किए और उसका गला काट दिया। दुकान में ईश्वर समेत दो और कर्मचारी मौजूद थे। कन्हैयालाल की हत्या से उपजे आक्रोश को देखते हुए अशोक गहलोत सरकार ने पूरे राजस्थान में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया है और सभी जिलों में धारा 144 लगा दी है। दोनों आरोपी राजसमंद से गिरफ्तार कर लिए गए हैं। सरकार ने धमकी के बावजूद समझौता कराने वाले पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया है।

गृह मंत्रालय ने इस हत्याकांड की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी। कहा कि किसी भी संगठन और अंतरराष्ट्रीय लिंक की गहन जांच की जाएगी। जांच के लिए 4 सदस्यीय टीम उदयपुर पहुंच गई है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- शरीर पर 26 निशान, गले में 8 से 10 बार वार

कन्हैयालाल का बुधवार को ही पोस्टमॉर्टम हुआ। सूत्रों के मुताबिक, शरीर पर घाव के 26 निशान मिले हैं। 8 से 10 घाव केवल गर्दन पर ही थे। पीएम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि कन्हैया का गला रेत कर अलग किया गया था। दोनों हमलावर कपड़े का नाप देने के बहाने मंगलवार को कन्हैया की दुकान में घुसे थे। इसके उन्होंने बर्बर तरीके से उसकी हत्या कर दी थी।

ये हत्याकांड नहीं सरेआम आतंकी हमला: राज्यवर्धन सिंह राठौर


बीजेपी सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कन्हैया हत्याकांड पर कहा कि ये कोई साधारण घटना नहीं है, ये एक आतंकी घटना है। यह अकेली घटना नहीं है, ऐसे ना जाने कितने लोग भड़काए गए हैं। बूंदी में एक मौलाना ने गर्दन काटने की धमकी दी, पुलिस दिखती है वीडियो में लेकिन कार्रवाई नहीं की। घरवाले कन्हैयालाल के लिए सुरक्षा मांगते रहे, लेकिन नहीं दी गई।’

यह भी पढ़े :- उदयपुर में तालिबानी हत्या: राजस्थान में इंटरनेट बैन, शहर में कर्फ्यू, तनाव में गुजरी पूरी रात

यह भी पढ़ें :- Udaipur Murder Case : ‘समझौता’ हो गया कहकर नहीं दी थी पुलिस ने सुरक्षा, 15 जून को हुई सबसे बड़ी गलती

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments