मंगलवार, अगस्त 16, 2022
Advertisement
होमAstrologyइन 4 राशियों में होता है धन कमाने की सबसे ज्यादा इच्छा,...

इन 4 राशियों में होता है धन कमाने की सबसे ज्यादा इच्छा, जानिए आपकी राशिफल धनी है या नहीं!

आज के समय में हर कोई अमीर बनना चाहता है। हर इंसान अमीर बनने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं लेकिन उनमें से कुछ अभी भी पैसे की कमी से जूझ रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कभी-कभी ग्रह दोष, स्थिति या गलत कार्यों के कारण कष्ट उठाना पड़ता है। क्योंकि कुंडली में ग्रह किसी न किसी रूप में व्यक्ति के अच्छे या बुरे जीवन को प्रभावित करते हैं। आईए जानते कि किन-किन राशियों में धन कमाने की इच्छा अधिक होती है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार धन कमाने की सबसे अधिक इच्छा शुक्र, मंगल, चंद्रमा और सूर्य की राशियों से जुड़ी है। शुक्र वृष राशि का, मंगल वृश्चिक राशि का, सूर्य सिंह राशि का और चंद्रमा कर्क राशि का है। इस राशि के लोगों के लिए भौतिक सुख बहुत महत्वपूर्ण है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली में धन का घर होना बहुत जरूरी है। धन का संबंध दूसरे और आठवें घर से है। इस भाव पर वृष और वृश्चिक राशि का शासन है। इसके अलावा नवम, एकादश और बारहवें भाव भाग्यशाली होते हैं। इसलिए इसके आधार पर व्यक्ति के पास कितना होगा इसकी जानकारी निकाली जाती है।

यह भी पढ़े :-आपके माथे पर है दो रेखाएं तो आपकी उम्र होगी इतनी! जानिए कैसे

अपनी कुंडली के साथ उपयोग करने के लिए इसे एक साथ रखने का तरीका यहां दिया गया है।
यदि किसी व्यक्ति की कुंडली के सातवें भाव में मंगल या शनि हो और 11वें भाव में शनि या राहु बैठा हो तो जान लें कि ये लोग जुए, दलाली आदि से गलत तरीके से धन कमाएंगे।
यदि चंद्रमा और मंगल एक साथ किसी घर में स्थित हों तो यह चंद्रमा मंगल को संभव बनाता है, जो धन के योग का संकेत देता है।
यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शुक्र के साथ मंगल स्थित हो तो उसे स्त्री पक्ष से आर्थिक लाभ प्राप्त होता है।

यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में मंगल और गुरु की युति हो तो धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
यदि सिंह किसी की कुंडली के पंचम भाव में सूर्य हो और शनि लाभ भाव में हो। वहीं यदि चंद्र-शुक्र की युति हो तो जातक धनवान होता है।
गुरु कक्कड़, धनु या मीन राशि के दशम भाव में हो और पंचम भाव का स्वामी दशम भाव में हो तो जातक को संतान से आर्थिक लाभ मिलता है।
यदि कुंडली में गुरु दशम या 11वें भाव में हो, सूर्य और मंगल पंचम भाव में हों, तो व्यक्ति को प्रशासनिक कौशल से आर्थिक लाभ मिलता है।

बता दे कि इस लेख में निहित किसी भी जानकारी,सामग्री, गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। यह जानकारी विभिन्न माध्यमों, ज्योतिषियों, ज्योतिषियों,प्रवचनों,प्रवचनों,विश्वासों, शास्त्रों से एकत्रित कर आपके लिए लाई है। हमारा उद्देश्य केवल जानकारी प्रदान करना है, इसके उपयोगकर्ता इसे केवल जानकारी के रूप में लें। इसके अलावा, उपयोगकर्ता इसके किसी भी उपयोग के लिए जिम्मेदार होगा।

यह भी पढ़े :- हमेशा इस दिशा में होना चाहिए बाथरूम, घर में कभी नही आएगी पैसों की कमी, वास्तु के अनुसार करने होंगे बहुत छोटे से काम

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments