बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia Newsपंजाब में आतंकी हमले का अलर्ट जारी : चंडीगढ़ और मोहाली दहलाने...

पंजाब में आतंकी हमले का अलर्ट जारी : चंडीगढ़ और मोहाली दहलाने की फिराक में ISI

चंडीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मोहाली दौरे से पहले पंजाब में आतंकी हमले को लेकर अलर्ट जारी हुआ है। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI चंडीगढ़ और मोहाली को दहलाने की साजिश रच रही है। खबर के मुताबिक आतंकी चंडीगढ़, मोहाली में अपने मंसूबों को अंजाम देने की फिराक में हैं और बस स्टेंड को निशाना बना सकते हैं। इसमें कुछ नेताओं को भी निशाना बनाने का भी अलर्ट है। खुफिया अलर्ट के बाद पंजाब पुलिस और सुरक्षाबल अलर्ट हो गए हैं। कहा जा रहा है कि सरकार कुछ नेताओं को अतिरिक्त सुरक्षा भी इस अलर्ट के चलते मुहैया करा सकती है।

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने इस बारे में पंजाब सरकार को इनपुट भेजा है। जिसके बाद पंजाब पुलिस की तरफ से सुरक्षा बंदोबस्त को लेकर प्लानिंग शुरू कर दी गई है। बता दे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 अगस्त को मोहाली आ रहे हैं। यहां वह टाटा कैंसर अस्पताल का उद्घाटन करेंगे। इसे देखते हुए सुरक्षा बलों को अलर्ट कर दिया गया है।

कुछ दिन पहले मिला था विस्फोटक

कुछ दिन पहले ही पंजाब के अमृतसर में एक पुलिस अधिकारी के स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) के नीचे छिपा कर रखी हुई विस्फोटक सामग्री मिली थी। पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि बाइक सवार दो अज्ञात लोगों ने एसयूवी के नीचे विस्फोटक सामग्री रखी और फिर मौके से फरार हो गए। बम निरोधक दस्ते के साथ भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और विस्फोटक सामग्री को निष्क्रिय कर दिया था।

15 अगस्त से पहले दिल्ली से पकड़े आतंकियों से भी हुआ खुलासा

स्वतंत्रता दिवस से पहले भी पंजाब पुलिस ने दिल्ली पुलिस की सहायता से 4 आतंकी पकड़े थे। इनमें दीपक मोगा, सन्नी ईसापुर, संदीप सिंह और विपिन जाखड़ शामिल थे। यह चारों कनाडा बैठे गैंगस्टर अर्श डल्ला और ऑस्ट्रेलिया बैठे गुरजंट जंटा के संपर्क में थे। पूछताछ में उन्होंने खुलासा किया था कि आतंकियों के निशाने पर दिल्ली और मोगा के साथ मोहाली भी है। पुलिस को उनसे पूछताछ में टारगेट किलिंग की जानकारी मिली थी। पंजाब पुलिस ने इसे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के समर्थन वाला टेरर मॉड्यूल करार दिया था।

10 नेताओं और अफसर की सुरक्षा बढ़ाई गई

पंजाब में नेता और अफसर भी आतंकियों के निशाने पर हैं। इनमें प्रमुख नाम पूर्व डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा, पूर्व मंत्री गुरकीरत कोटली, विजयइंदर सिंगला और परमिंदर पिंकी का है। केंद्रीय खुफिया एजेंसी ने पंजाब पुलिस को 10 लोगों की लिस्ट भेजी थी। जिसके बाद इन सभी की सुरक्षा बढ़ाने के आदेश दिए जा चुके हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments