रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमUncategorizedतालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद भारत के साथ आयात-निर्यात पर...

तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद भारत के साथ आयात-निर्यात पर लगाई रोक

अफगानिस्तान और भारत के संबंध अच्छे रहे हैं, लेकिन तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा करते ही भारत के साथ सामान का आयात निर्यात दोनों पर ही रोक लगा दी है। फेडरेशन ऑफ इंडिया एक्सपोर्ट ऑर्गनाइजेशन के डॉ. अजय सहाय ने इस बात की जानकारी दी है।


खास बाते

•भारत के साथ व्यापार पर तालिबान की रोक
•पाकिस्तान के रूट से आयात-निर्यात बंद


अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के बाद उसके संबंध पड़ोसी और दूसरे देशों के साथ बदलने लगे हैं। भारत और अफगानिस्तान के संबंध अच्छे और गहरे रहे हैं, लेकिन तालिबानियों की अफगानिस्तान की सत्ता पर हुकूमत होते ही तालिबान ने भारत के साथ आयात और निर्यात दोनों पर ही रोक लगा दी है‌।

समाचार एजेंसी ANI को डॉ. अजय सहाय ने बताया कि तालिबान ने इस समय सभी तरह के कार्गो मूवमेंट पर रोक लगा दी है। उन्होंने बताया कि आयात-निर्यात का सारा माल ज्यादातर पाकिस्तानी रुट से ही सप्लाई किया जाता था, जिस पर अब रोक लगा दी गई है।

अफगानिस्तान के हालातों पर हमारी नज़रें टीकी हुई हैं, ताकि हम मार की सप्लाई को फिर से शुरू कर पाएं हालांकि मौजूदा समय में तालिबान ने आयात-निर्यात पर रोक लगा दी है।

बड़े स्तर पर होता है भारत और अफगानिस्तान के बीच बिजनेस

डॉ. अजय सहाय के अनुसार, ट्रेड के मामले में भारत अफगानिस्तान का सबसे बड़ा बिजनेस पार्टनर है इसके अलावा भारत और अफगानिस्तान के बीच बड़े स्तर पर व्यापार होता है। साल 2021 में ही भारत का एक्सपोर्ट 835 मिलियन डॉलर का था, जबकि इम्पोर्ट 510 मिलियन डॉलर का हुआ।

सामान के इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट के अलावा अफगानिस्तान में बड़े स्तर पर भारत ने इनवेस्टमेंट भी किया है, जिसमें लगभग 400 योजनाओं में 3 बिलियन डॉलर का इन्वेस्टमेंट किया है।

बता दें कि अफगानिस्तान में भारत चीनी, चाय, कॉफी, मसाला समेत अन्य वस्तुएं एक्सपोर्ट करता है, और वहां से बड़े स्तर पर ड्राई फ्रूट्स, प्याज आदि भारत इम्पोर्ट किए जाते हैं। हालातों को देखते हुए आने वाले कुछ दिनों मे ड्राई फ्रूट्स की कीमत बढ़ सकती हैं।

फिलहाल ट्रेड बंद होने की वजह से दोनों देशों के बीच बिजनेस की परेशानी पैदा हो गई है। लेकिन तालिबान के प्रवक्ता ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में जताया था कि एक बार सरकार बनने के बाद सब कुछ साफ हो जाएगा।


RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments