रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमWorld Hindi Newsदो अनोखे शहर, एक में सूरत उगता ही नहीं, दूसरे में अस्त...

दो अनोखे शहर, एक में सूरत उगता ही नहीं, दूसरे में अस्त नहीं होता!

दिन के बाद रात और रात के बाद दिन जरूर होता है। इसमें कोई नई बात नहीं है, लेकिन क्या आप ऐसी जगहों के बारे में जानते हैं, जहां कही सूर्य अस्त नहीं होता? जी हां, दुनिया में ऐसी कुछ जगह हैं, जहां सूरज 70 दिन से ज्यादा नहीं डूबता। आप सोच रहे होंगे, ऐसा कैसे हो सकता है कि सूर्य अस्त ही न हो? चलिए हम आपको बताते हैं ऐसे देश जहां सूर्य कभी अस्त नहीं होता या यूं कह लीजिए कि वहां कभी रात ही नहीं होती। दुनिया में एक ऐसी जगह है जहां रात 12 बजकर 43 मिनट पर सूरज छिपता है और महज 40 मिनट के अंतराल पर उग आता है। यह नजारा नॉर्वे में देखने को मिलता है। यहां आधी रात को सूरज छिपता है और रात करीब डेढ़ बजे चिड़िया चहचहाने लगती हैं। ये सिलसिला एक-दो दिन नहीं, साल में करीब ढाई महीना यहां सूरज छिपता ही नहीं। इसलिए इसे ‘कंट्री ऑफ मिडनाइट सन’ कहा जाता है।

जहां 100 सालों से सूरज नहीं निकला

दुनिया के एक छोर पर मौजूद इस अनोखे मुल्क में एक शहर ऐसा भी है जहां 100 सालों से सूरज के दर्शन नहीं हुए। इटली के विगानेला गांव के लोगों की सर्दियां छांव में ही बीतती रहीं। साल में तीन महीने यहां धूप बिल्कुल नहीं आती और गांव ठंड से ठिठुरता रहता है। ठंड और छाया से परेशान कई लोग गांव छोड़ चुके हैं। वहां के इंजीनियर्स ने इस समस्या हल निकालने के लिए शीशे की मदद से ‘नया सूरज’ ही बना डाला है। इस आर्टिफिशियल सूरज को पहाड़ी पर इस तरह से लगाया गया है कि वह धूप को शहर तक पहुंचाता है और खुद एक सूरज के जैसे लगता है। इसकी रोशनी सीधे टाउन स्कवायर पर पड़ती है। यही वजह है कि यह जगह लोगों को आकर्षित करती हैं।

76 दिनों तक अस्त नहीं होता सूरज

खबरों के मुताबिक, नॉर्वे में मई से जुलाई के बीच करीब 76 दिनों तक यहां सूरज अस्त नहीं होता। अगर आप इस बात पर यकीन नहीं करते तो यह अनुभव को आप वहां जाकर ही महसूस किया जा सकता है। ये घटना नॉर्वे के उत्तरी छोर पर मौजूद हेमरफेस्ट शहर में होती है।

यह भी पढ़े :- राजस्थान का ऐसा किला जहां हैं भूत-प्रेतों का साया!, सूर्यास्त के बाद अंदर जाना है मना

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments