बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia NewsSonali Phogat CCTV Video: मौत से पहले का आखिरी वीडियो : नशे...

Sonali Phogat CCTV Video: मौत से पहले का आखिरी वीडियो : नशे की हालत में लंगड़ाकर चलती दिखीं सोनाली फोगाट

पणजी। भाजपा नेता और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत के मामले में नया खुलासा हुआ है। उनकी मौत से ठीक पहले का सीसीटीवी वीडियो सामने आया है। वीडियो में सोनाली नशे की हालत में नजर आ रही है। एक शख्स उन्हें सहारा देकर ले जाता नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि सोनाली अपने होश में नहीं थीं, वो लंगड़ा कर चल रही थीं। इसके पहले गोवा पुलिस के आईजी ओमवीर सिंह बिश्नोई ने पत्रकारवार्ता में बताया कि सोनाली को जबरन ड्रग्स दिया गया था। आईजी बिश्नोई के अनुसार सोनाली के पीए सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों का मेडिकल चेकअप करवाया जाएगा। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर यह देखा गया कि आरोपी सुधीर सांगवान और उसका सहयोगी सुखविंदर सिंह सोनाली के साथ एक क्लब में पार्टी कर रहे थे।

एक वीडियो में दिख रहा है कि उनमें से एक ने पीड़ित को जबरदस्ती एक पदार्थ का सेवन कराया। पूछताछ में सुखविंदर और सुधीर ने कबूल किया कि उन्होंने जानबूझकर लिक्विड में मिलाकर सोनाली को कुछ पिलाया। ओवरडोज से सोनाली की तबीयत बिगड़ी तो आरोपी ही उसे बाथरूम ले गए। आईजीपी ने कहा कि एफएसएल के एक्सपर्ट को बुलाया गया है। आगे की पूछताछ के लिए आरोपियों को एक टीम के साथ विभिन्न स्थानों पर भेजा जाएगा ताकि आगे सबूत मिल सकें। हिरासत में लिए गए दो आरोपियों सुधीर सागवान और सुखविंदर सिंह ने 22 अगस्त को फोगाट के साथ गोवा की यात्रा की थी। आईजीपी ने कहा कि आरोपियों की स्वीकारोक्ति के अनुसार नशा करने की घटना उत्तरी गोवा के अंजुना में कर्लीज रेस्तरां में हुई।

इससे पहले सोनाली फोगाट के शव का गुरुवार दोपहर गोवा के मेडिकल एवं फोरेंसिक कॉलेज में पोस्टमार्टम हुआ। इस दौरान रिपोर्ट में सामने आया कि सोनाली फोगाट के शरीर पर गहरी (गुम) चोट के निशान हैं। हालांकि रिपोर्ट में मौत के स्पष्ट कारणों का खुलासा नहीं हुआ। वहीं, गोवा पुलिस ने उनके पीए सुधीर सांगवान और सुखविंद्र पर हत्या का केस दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि 23 अगस्त को उनकी मौत की पुष्टि हुई थी। गोवा के मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर सुनील श्रीकांत और डॉ. महेंद्र की टीम ने सोनाली के शव का पोस्टमार्टम किया। दोनों डॉक्टरों की टीम ने रिपोर्ट में लिखा है कि पोस्टमार्टम के बाद जितने भी सैंपल जांच के लिए भेजे जाते हैं वे लैब में भेज दिए हैं। शरीर पर गहरी चोट के निशान मिले हैं, ये जानकारी मामले के जांच अधिकारी जुटाएंगे कि ये निशान कैसे आए।

सोनाली फोगाट की मौत के बाद का घटनाक्रम बड़े षड्यंत्र का कहानी कह रहा है। मौत के कुछ घंटे बाद ही सोनाली के साथ काम करने वाला उनका कंप्यूटर ऑपरेटर संदिग्ध हालत में फरार हो गया। ऑपरेटर अपने साथ लैपटॉप भी ले गया। घर की डीवीआर भी गायब मिली। अलमारी में रखे दस्तावेज भी नहीं मिले। आखिर लैपटॉप को क्यों गायब कराया गया। क्या लैपटॉप से डेटा को गायब कर दिया गया है। सोनाली ने अपने जीजा कुलदीप को बताया था कि तीन साल पहले सुधीर ने मुझे नशीला पदार्थ पिलाकर मेरे साथ दुष्कर्म किया था। इस दौरान आरोपी ने उसका वीडियो बनाया और वायरल करने की धमकी देकर कहा कि राजनीतिक और फिल्मी कॅरिअर तबाह कर दूंगा। इसके बाद लगातार दुष्कर्म करता और ब्लैकमेल करता था, जो वह कहता सोनाली करने पर मजबूर होती।

फतेहाबाद जिले के गांव भूथन कलां निवासी रिंकू ने बताया कि उसकी बहन सोनाली फोगाट ने वर्ष 2019 में आदमपुर सीट पर विधायक का चुनाव लड़ा था। इसी दौरान गोहाना के पास खेड़ी निवासी सुधीर सांगवान को पीए नौकरी पर रख लिया था। सुधीर ने भिवानी निवासी सुखविंद्र श्योराण को भी अपने साथ रख लिया। वहीं 14 फरवरी 2021 में संतनगर में सोनाली के घर चोरी के बाद सभी नौकरों को हटा दिया गया। पीए सुधीर सांगवान ही सोनाली के खाने की व्यवस्था देखने लगा। तीन महीने पहले सोनाली ने फोन कर बताया कि शाम को सुधीर ने मुझे खाने में खीर दी थी, उसके बाद मेरी सेहत बिगड़ गई। इस बारे में सुधीर से बात की, तो उसने गोलमोल जवाब दिया। पीए होने के कारण लेन-देन और कागजी कार्रवाई सुधीर करता था। सोनाली बिना पढ़े कागजों पर हस्ताक्षर कर देती थी।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments