रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमWorld Hindi NewsShinzo Abe Murder : 'उनकी वजह से ही मेरी मां हुई दिवालिया':...

Shinzo Abe Murder : ‘उनकी वजह से ही मेरी मां हुई दिवालिया’: जापान के पूर्व PM के हत्यारे ने कबूला

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Former Japanese Prime Minister Shinzo Abe) की शुक्रवार को एक चुनावी रैली के दौरान बीच सड़क पर हमला करके हत्या कर दी गई। शिंजो आबे (Shinzo Abe) की हत्या करने वाले आरोपी तेत्सूया यामागामी (Tetsuya Yamagami) को गिरफ्तार कर लिया गया। तेत्सूया यामागामी ने शिंजो आबे की हत्या क्यों की इसके पीछे खुलासा हुआ है। हत्या करने वाले को विश्वास था कि शिंजो आबे एक ऐसे धार्मिक समूह से जुड़े थे, जिसके चलते उसकी मां दिवालिया हो गई थीं। वो अपनी मां की खराब आर्थिक स्थिति के लिए इस समूह को दोषी ठहराता था। शनिवार को पुलिस ने स्थानीय मीडिया को जानकारी दी कि वो महीनों से घर पर बनाई गई बंदूक से आबे पर हमला करने की योजना बना रहा था।

इस घटना के जो वीडियो सामने आए हैं, उनमें देखा जा सकता है कि शिंजो आबे पर बीच सड़क में एक चुनावी रैली के दौरान हमला करने वाला तेत्सूया यामागामी आता है। तेत्सूया यामागामी चश्मा लगाए, उजड़े बालों वाला एक आदमी ग्रे टीशर्ट और बेज कलर की पैंट में आबे के काफी करीब आता है और उनपर एक के बाद एक दो गोली फायर करता है। उसने इस हत्या को 40 सेमी के एक बंदूक से अंजाम दिया, जो स्थानीय मीडिया के अनुसार उसने खुद बनाया था। उसकी गन काले टेप में लिपटी हुई थी। उसने जैसे ही गोली चलाई, पुलिसकर्मियों ने उसे वहीं दबोच लिया।

यह भी पढ़ें :- जापान के पूर्व PM आबे की गोली मारकर हत्या: भाषण के दौरान पूर्व सैनिक ने पीछे से मारी थी गोली

एक रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी के पड़ोसियों से बात करने पर पता चला कि वो अकेला और गुमसुम रहता था। क्योडो न्यूज एजेंसी ने जांच सूत्रों के हवाले से बताया कि उसका मानना था आबे ने एक ऐसे धार्मिक समूह का समर्थन किया था, जिसको चंदा दे-देकर उसकी मां दिवालिया हो गई थीं।

क्योडो और दूसरे स्थानीय मीडिया संस्थानों ने पुलिस के हवाले से बताया कि हत्यारे ने पूछताछ में कहा कि ‘मेरी मां एक धार्मिक समूह के चक्कर में पड़ गई थीं, और मुझे यह बिल्कुल पंसद नहीं था।’ नारा पुलिस ने इसपर कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया है। मीडिया में भी इस धार्मिक समूह का नाम सामने नहीं आया है।

यह भी पढ़ें :- राजीव गांधी से लिंकन तक: वो हत्याएं जिनसे दहल गई दुनिया, किसी को गोली मारी तो किसी के धमाके में चीथड़े उड़े

जानकारी है कि यामागामी ने बंदूक बनाने के लिए इसके कई पार्ट्स ऑनलाइन मंगाए थे और महीनों से हत्या को अंजाम देने की तैयारी कर रहा था। यहां तक कि मौके ढूंढता हुआ वो शिंजो आबे के दूसरे कैंपेन्स भी जा चुका था। हत्या वाले दिन से एक दिन पहले ही वो 200 किमी दूर एक कैंपेन अंटेंड करने गया था। सरकारी समाचार एजेंसी NHK ने बताया कि बंदूक से हमला करने से पहले उसने बम से हमला करने पर विचार किया था, लेकिन बाद में बंदूक का ही इस्तेमाल किया।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments