मंगलवार, अगस्त 16, 2022
Advertisement
होमIndia Newsसत्येंद्र जैन की मुश्किलें और बढ़ी, करीबी के घर से करोड़ों रुपये,...

सत्येंद्र जैन की मुश्किलें और बढ़ी, करीबी के घर से करोड़ों रुपये, सोने के बिस्कुट और सिक्के बरामद

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को मंत्री सत्येंद्र जैन के करीबी के आवास पर छापेमारी के दौरान भारी मात्रा में नकदी और सोना जब्त किया है। ईडी ने छापेमारी में करीब 3 करोड़ रुपये नकद बरामद किए हैं। इसके अलावा जैन के पास से 133 सोने के सिक्के, बिस्कुट और भारी मात्रा में चांदी भी बरामद हुई है। ईडी की टीम ने सोमवार को कई जैन ठिकानों पर छापेमारी की थी। ईडी की टीम ने सुबह छापेमारी शुरू की थी। ईडी की छापेमारी मंगलवार सुबह भी जारी रही।

छापेमारी के दौरान नकदी और सोना बरामद किया गया। ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में सत्येंद्र को गिरफ्तार किया है। दिल्ली की रूसो एवेन्यू कोर्ट ने जैन को 9 जून तक ईडी की हिरासत में भेजा था। ईडी ने कोर्ट से 14 दिन की रिमांड मांगी थी। गौरतलब है कि ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में सत्येंद्र जैन को 30 मई को गिरफ्तार कर लिया था। गिरफ्तारी के बाद सत्येंद्र जैन को कोर्ट में पेश किया गया था। जैन अभी 9 जून तक ईडी की कस्टडी में रहेंगे।

यह भी पढ़े :-गुप्ता ब्रदर्स दुबई में गिरफ्तार, जानिए-यूपी के रहने वाले भाईयों ने कैसे किया अरबों रुपये का घोटाला

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार हुए जैन

मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा गिरफ्तार किए गए सत्येंद्र जैन ने कथित तौर पर 16 करोड़ रुपये से अधिक का शोधन किया है। उनके परिवार के साथ, जैन परिवार के दो अन्य लोग भी इस व्यापक साजिश का हिस्सा होने के चलते ईडी की जांच के दायरे में हैं।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सत्येंद्र जैन पर जांच एजेंसियों को गुमराह करने के लिए अपनी दो बेटियों सहित अपने परिवार के सदस्यों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सत्येंद्र कुमार जैन, उनके परिवार और दोस्तों का दिल्ली की चार कंपनियों में नियंत्रण और हिस्सेदारी थी। दिल्ली सरकार का हिस्सा बनने से पहले जैन चार में से तीन फर्मों के निदेशकों में से एक थे।

यह भी पढ़े :- कानपुर हिंसा: 12 और आरोपी गिरफ्तार, एक ने खुद किया सरेंडर

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments