बुधवार, अगस्त 10, 2022
Advertisement
होमCrime NewsRajasthan Kidnapping Case : फ्री फायर गेम के जाल में फंसाकर किया...

Rajasthan Kidnapping Case : फ्री फायर गेम के जाल में फंसाकर किया ब्रेनवाॅश, कतर से पहुंचा दौसा, बांदीकुई से अगवा छात्रा को बिहार से किया दस्तयाब

Dausa Kidnapping Case : दौसा/बांदीकुई। मोबाइल गेमिंग की लत (Side Effect Of Addiction Of Free Fire Game) कितनी बुरी है इसका अंदाजा आपको यह खबर पढ़कर लग जाएगा। गेम के चक्कर में बच्चे घर से दूर हो रहे हैं और परिवार तक को छोड़ने तक को राजी है। ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जिसमें ऑनलाइन गेम के चक्कर में कम उम्र के लड़के-लड़की अपनी जान दांव पर लगा चुके हैं। अब आपको ऐसा मामला बताते हैं जिसमें मोबाइल गेम की लत एक नाबालिग पर इस कदर हावी हुई कि वह घर छोड़कर चली गई। मामला राजस्थान के दौसा जिले (Dausa Kidnapping Case) के बांदीकुई थाना क्षेत्र का है। पुलिस ने इंस्टाग्राम पर फ्री फायर गेम (Free Fire Game) के जाल में फंसाकर ब्लैकमेल कर अगवा करने के मामले में एक 13 वर्षीय लड़की को बिहार से बरामद कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

फ्री फायर गेम के जरिए 13 साल की लड़की की कतर के युवक से दोस्ती हो गई। युवक कतर से लड़की से मिलने पहुंच गया। इसके बाद वह लड़की को किडनैप कर ले गया। घरवालों की सूचना पर पुलिस ने पीछा किया और युवक को बिहार से लड़की के साथ पकड़ लिया।

दरअसल, लड़की की ऑनलाइन गेम के चलते दोस्ती कतर में बैठे 25 साल के इजराइल से हो गई। दोनों के बीच ऑनलाइन गेम के जरिए हुई पहचान का फायदा उठाकर युवक लड़की को लेने कतर से दिल्ली आया, सिम चेंज की, फिर लड़की को बांदीकुई से किडनैप कर अपने साथ बिहार ले गया। प्लान था नेपाल भागने का, लेकिन पुलिस ने पहले ही दबोच लिया।

कुरकुरे लेने गई थी बच्ची

लड़की के परिजनों ने 19 जून को थाने में किडनैप होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने लड़की को को तलाशा, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। पिता ने कहा कि लड़की कुरकुरे लेने गई थी। वहां से कोई उसको किडनैप कर ले गया। दौसा एसपी राजकुमार गुप्ता के नेतृत्व में स्पेशल पुलिस टीम का गठन कर मामले की जांच की गई।

फ्री फायर गेम खेलती थी बच्ची

पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि लड़की ऑनलाइन गेम फ्री फायर खेला करती थी। जिस दिन वह किडनैप हुई उस दिन उसकी बातचीत संदिग्ध इंस्टाग्राम आईडी के साथ हुई। ये आईडी कतर की थी, लेकिन भारत में एक्टिव मिली। उससे जुड़े मोबाइल नंबर को ट्रैक किया तो सामने आया कि सिम नई दिल्ली से खरीदी गई है। इसकी लोकेशन के आधार पर पता चला कि वह नंबर बांदीकुई में एक्टिव हुआ, फिर ट्रेन के जरिए दिल्ली व बिहार रूट पर एक्टिव नजर आया। यानी दिल्ली से आकर बांदीकुई से लड़की को उठाया गया और ट्रेन से दिल्ली होकर बिहार ले जाया गया।

नेपाल के रास्ते कतर ले जाने वाला था आरोपी

पुलिस की एक टीम को बिहार के लिए रवाना किया गया। जहां दरभंगा से लड़की और आरोपी युवक को बस स्टैंड से पकड़ लिया गया। युवक लड़की को नेपाल के रास्ते कतर ले जाने की फिराक में था। एसपी राजकुमार गुप्ता (Dausa SP Rajkumar Gupta) ने बताया कि आरोपी इजराइल नदाफ (Israel Nadaf) पुत्र दाऊ मदाफ (25) निवासी धनुजी जिला धनुषा प्रदेश नेपाल का है। आरोपी फिलहाल खाड़ी देश कतर स्थित इलेक्ट्रिक कंपनी में मजदूर है। 18 जून को कतर से फ्लाइट के जरिए इजराइल दिल्ली आया था। 19 जून को वह लड़की का माइंड वॉश कर ट्रेन से दिल्ली ले गया। आरोपी को 7 दिन के रिमांड पर लिया गया है। पुलिस इजराइल से पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़े :- एक शौहर, 13 पत्नी, 12 लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाकर की शादी

यह भी पढ़े :- मां ने नाबालिग बेटी की कोख का किया सौदा, महिला ने दोस्त से कई बार करवाया दुष्कर्म

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments