गुरूवार, दिसम्बर 1, 2022
Advertisement
होमIndia NewsPunjab Budget 2022: महिलाओं को झटका, मान सरकार ने 1,55,860 करोड़ रुपये...

Punjab Budget 2022: महिलाओं को झटका, मान सरकार ने 1,55,860 करोड़ रुपये का बजट किया पेश, यहां पढ़ें

चंडीगढ़। पंजाब की भगवंत मान सरकार ने सोमवार को अपना पहला बजट पेश किया। वित्त मंत्री हरपाल चीमा ने विधानसभा में इसे पेश किया। चीमा ने 2022-23 के लिए एक लाख 55 हजार 860 करोड़ के बजट खर्चे का अनुमान रखा। यह पिछले साल से 14 फीसदी ज्यादा है। बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है। फ्री बिजली के अपने वादे को आप सरकार एक जुलाई से पूरा करेगी।
यहां आपको बजट की कुछ बड़ी बातें बता रहे हैं-
पंजाब बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है
संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए 450 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।
व्यापारी आयोग का गठन किया जाएगा।
मोहाली में आईटी कंपनियों के लिए फिनटेक सिटी बनायी जाएगी।
आटे की होम डिलीवरी के लिए 497 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।
सभी जिलों में साइबर अपराध नियंत्रण कक्ष, इसके लिए 30 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं।
सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए बजटीय आवंटन वित्त वर्ष 2022-23 में 31.23 लाख लाभार्थियों को कवर करने के लक्ष्य के साथ 4,720 करोड़ रुपये करने का प्रस्ताव है। राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए वित्त वर्ष 2022-23 में 3,003 करोड़ रुपये का प्रस्ताव है।
किसानों के लिए दी जाने वाली बिजली सब्सिडी सरकार जारी रखेगी। बजट में सरकार ने मुफ्त बिजली के लिए 6947 करोड़ का प्रावधान किया है।
पराली जलाने पर रोक लगाने के लिए 200 करोड़ रु. आवंटित किए गए हैं। धान की सीधी बिजाई करने वाले किसानों को 450 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता।
वित्त वर्ष 2022-23 में 7 करोड़ रुपये की लागत से अमृतसर में एक नया क्विक फ्रीजिंग सेंटर स्थापित करने का प्रस्ताव है। इसके अलावा, 11 करोड़ रुपये की लागत से जालंधर में एक एकीकृत हाई-टेक सब्जी उत्पादन-सह-प्रौद्योगिकी प्रसार केंद्र बनाया जाएगा।
सहकारिता क्षेत्र के लिए 1,170 करोड़ रुपये आवंटित किए गए, जो पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 35.67 प्रतिशत अधिक है।
सरकार ने चिकित्सा शिक्षा के लिए 1,033 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा है। नए मेडिकल कॉलेज की घोषणा की। सरकार ने चिकित्सा शिक्षा के लिए 1,033 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा है जो वित्त वर्ष 2021-22 की तुलना में 56.6% अधिक है। मौजूदा सरकार के मेडिकल कॉलेजों में सुधार और इन कॉलेजों में MBBS सीटें बढ़ाने पर भी ध्यान दिया जाएगा। इस वर्ष 117 मोहल्ला / पिंड क्लिनिक शुरू किए जाएंगे, जिसके लिए 77 करोड़ रुपये का प्रारंभिक आवंटन प्रस्तावित किया जा रहा है। इनमें से 75 मोहल्ला क्लीनिक 15 अगस्त, 2022 तक चालू हो जाएंगे।
पंजाबी यूनिवर्सिटी के लिए 200 करोड़ रुपये आवंटित। तरनतारन, बरनाला, लुधियाना, फाजिल्का, मलेरकोटला, मोगा, पठानकोट, मुक्तसर साहिब और शहीद भगत सिंह नगर के 9 जिलों के सरकारी कॉलेजों के पुस्तकालयों में बुनियादी सुविधाओं की सुविधा प्रदान करने के लिए वित्तीय वर्ष 2022-23 में 30 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।
विश्वविद्यालय शुल्क में रियायत देने के लिए सामान्य वर्ग के छात्रों को सीएम छात्रवृत्ति। सरकारी कॉलेजों में पढ़ने वाले गरीब परिवारों, विशेष रूप से सामान्य वर्ग के छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए, AAP सरकार ने अंकों के आधार पर शुल्क में रियायत के रूप में छात्रवृत्ति प्रदान करने का निर्णय लिया है। इस उद्देश्य के लिए ₹30 करोड़ का आवंटन किया गया है।
पंजाब युवा उद्यमी कार्यक्रम : पंजाब यंग एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम एक स्टार्ट-अप प्रोग्राम है, जहां कक्षा 11 के छात्रों को अपने मूल व्यावसायिक विचारों को प्रस्तावित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा, जिसे सरकार द्वारा प्रति छात्र ₹ 2,000 की दर से बीज राशि प्रदान करके समर्थित किया जाएगा। इस उद्देश्य के लिए वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान ₹50 करोड़ का आवंटन किया गया है।
36,000 संविदा कर्मचारियों की सेवाएं होंगी नियमित।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments