बुधवार, अगस्त 10, 2022
Advertisement
होमIndia NewsAgneepath Scheme Protest: अग्निपथ के खिलाफ लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन, बिहार, यूपी...

Agneepath Scheme Protest: अग्निपथ के खिलाफ लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन, बिहार, यूपी समेत कई राज्यों में आगजनी-तोड़फोड़

नई दिल्ली। सेना भर्ती को लेकर केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना के खिलाफ कई राज्यों में तीसरे दिन भी उग्र प्रदर्शन जारी है। अग्निपथ योजना को लेकर देश के कई राज्यों में विरोध देखा जा रहा है। यूपी और बिहार में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनें फूंक दीं। कई जगह रेलवे ट्रैक और सड़क जाम किया गया। वहीं, यूपी के बलिया में सुबह पांच बजे से प्रदर्शन शुरू हो गया। यहां कई गाड़ियों के शीशे तोड़े गए। पुलिस ने एक उपद्रवी को हिरासत में लिया है। फिरोजाबाद में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर 4 बसों में तोड़फोड़ करके जाम लगाया गया। हरियाणा के नारनौल में भी युवाओं ने जाम लगा दिया है। तेलंगाना के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन में भी आगजनी और तोड़फोड़ हुई है।

भर्ती की तैयारी करें युवा: राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने प्रदर्शनकारी छात्रों से बवाल न करने की अपील की है। उन्होंने कहा-दो साल से सेना में भर्ती का अवसर नहीं मिल पाया है। इससे भर्ती प्रक्रिया रुकी हुई है। यही सोचकर सरकार ने अभी अग्निवीरों की भर्ती के लिए उम्र सीमा दो साल बढ़ा दी गई है। युवाओं से अपील है कि वह विरोध न करें, भर्ती की तैयारी करें।

एमपी: इंदौर रेलवे स्टेशन पर युवकों का हंगामा

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध इंदौर में भी हो रहा है। यहां रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार सुबह 7 बजे सेना भर्ती में पहुंचे युवाओं ने हंगामा कर दिया। छात्रों ने पुणे से इंदौर आने वाली ट्रेन भी रोक दी। इंदौर से उज्जैन जाने वाली मेमू सहित दो ट्रेन को निरस्त किया गया है। युवक सुबह पहुंचे तो पुलिस ने आगे जाने से रोका था। इस दौरान वह हंगामा मचाने लगे। कुछ देर बाद यहां भारी फोर्स तैनात किया गया।

नारनौल में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

तीसरे दिन हरियाणा में भी प्रदर्शन जारी है। शुक्रवार सुबह नारनौल में युवाओं ने हंगामा किया, जिसके बाद पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस ने दो छात्र नेता सहित नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।


तेलंगाना में भी विरोध-प्रदर्शन, छात्रों ने ट्रेन पर फेंके पत्थर

तेलंगाना में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने भी अग्निपथ योजना का विरोध किया। इस दौरान सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर स्थिति उस समय तनावपूर्ण हो गई जब एनएसयूआई के छात्रों ने ट्रेनों पर पथराव किया।

क्या है अग्निपथ योजना?

बता दे कि सेना भर्ती को लेकर केंद्र सरकार द्वारा लाई गई ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ के तहत युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सेना में शामिल होने का मौका मिलेगा। साढ़े 17 साल से 21 साल के युवा लड़के और लड़कियां इसके लिए पात्र होंगे। इसके लिए 10वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र आवेदन कर सकेंगे। इसकी शुरुआत 90 दिन के भीतर हो जाएगी। इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। पहली भर्ती प्रक्रिया में युवाओं को छह महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग का समय भी चार साल में शामिल होगा।

हर अग्निवीर को भर्ती के साल 30 हजार महीने तनख्वाह मिलेगी। इसमें से 70 फीसदी यानी 21 हजार रुपये उसे दिए जाएंगे। बाकी 30 फीसदी यानी नौ हजार रुपये अग्निवीर कॉर्प्स फंड में जमा होंगे। इस फंड में इतनी ही राशि सरकार भी डालेगी। दूसरे साल अग्निवीर की तनख्वाह बढ़कर 33 हजार, तीसरे साल 36.5 हजार तो चैथे साल 40 हजार रुपये हो जाएगी। चार साल में उसकी कुल बचत करीब 5.02 लाख रुपये होगी। वहीं सरकार की ओर से भी इतनी ही रकम जमा की जाएगी। नौकरी पूरी होने के बाद उसे ये रकम ब्याज सहित मिलेगी। जो करीब 11.71 लाख रुपये होगी। ये रकम टैक्स फ्री होगी।

सेवा के दौरान शहीद होने या दिव्यांग होने पर आर्थिक मदद का प्रावधान भी है। अगर कोई अग्निवीर देश सेवा के दौरान शहीद हो जाता है तो उसे सेवा निधि समेत एक करोड़ से ज्यादा की राशि ब्याज समेत दी जाएगी। इसके अलावा बची हुई नौकरी का वेतन भी दिया जाएगा। अगर कोई जवान ड्यूटी के दौरान डिसेबिल यानी दिव्यांग हो जाता है तो उसे 44 लाख रुपये तक की राशि दी जाएगी और बची हुई नौकरी का भी वेतन दिया जाएगा। चार साल की नौकरी के बाद युवाओं को सेवा निधि पैकेज दिया जाएगा। जो 11.71 लाख रुपए होगा।

यह भी पढ़े :- Agneepath Scheme : कई राज्यों में ‘अग्निपथ’ पर भड़के युवा: रोहतक में छात्र ने दी जान

यह भी पढ़े :- सेना में भर्ती के लिए ‘अग्निपथ योजना’ का ऐलान, जानिए सरकार का नया सिस्टम

यह भी पढ़े :- मोदी सरकार का बड़ा दांव, डेढ़ साल में 10 लाख नौकरियां

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments