सोमवार, अक्टूबर 3, 2022
Advertisement
होमIndia Newsबिहार में कैबिनेट विस्तार के बाद बंटे विभाग : नीतीश के पास...

बिहार में कैबिनेट विस्तार के बाद बंटे विभाग : नीतीश के पास गृह तो तेजस्वी को मिला स्वास्थ्य मंत्रालय, जानिए किन-किन विधायकों ने ली शपथ

पटना। बिहार की नई कैबिनेट के शपथ ग्रहण के तुरंत बाद मंत्रालय और विभागों का बंटवारा भी हो गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गृह मंत्रालय अपने पास रखा है। वहीं डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को स्वास्थ्य मंत्रालय दिया गया है। वित्त विभाग की जिम्मेदारी विजय कुमार चौधरी को मिली है। वहीं लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव को पर्यावरण मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।

इससे पहले बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार हुआ। राजभवन में राज्यपाल फागू चौहान ने 31 मंत्रियों को शपथ दिलाई। मंत्रियों ने पांच-पांच के बैच में शपथ ली। जिनमें से सबसे ज्यादा आरजेडी 16, जेडीयू 11, कांग्रेस से दो, हम से एक और एक निर्दलीय विधायक ने शपथ ली। नए मंत्रिमंडल में मुसलमानों की संख्या पांच है। राजद ने यादवों को सबसे अधिक सात सीटें दी है, जिनमें पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव भी शामिल हैं।

शपथग्रहण समारोह 52 मिनट तक चला

पटना स्थित राजभवन में नीतीश कुमार की नई कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह 52 मिनट तक चला। एक साथ 5 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। कुल 31 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली, जिनमें से आरजेडी से 16, जेडीयू से 11, कांग्रेस से 2, हम से एक और एक निर्दलीय ने शपथ ली। राज्यपाल फागू चौहान ने सभी नए मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

तेज प्रताप, विजय चौधरी समेत पांच मंत्रियों ने ली शपथ

सबसे पहले विजय चौधरी, बिजेंद्र प्रसाद यादव, तेज प्रताप यादव, आफाक आलम और आलोक मेहता ने मंत्री पद की शपथ ली। राज्यपाल फागू चौहान ने पांचों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

तेज प्रताप यादव दूसरी बार बने मंत्री

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने दूसरी बार मंत्री पद की शपथ ली है, वे हसनपुर से विधायक हैं। वहीं, आलोक मेहता आरजेडी के वरिष्ठ नेता है, उन्हें सरकार में अहम विभाग मिल सकता है। वहीं महागठबंधन की नई सरकार में सामाजिक समीकरण को ध्यान में रखकर मंत्री बनाए गए हैं। ओबीसी-ईबीसी से सबसे ज्यादा 17, दलित-5 और 5 मुस्लिम शामिल हैं।

इन नेताओं ने भी ली मंत्री पद की शपथ

इसराइल मंसूरी, सारण के गरखा से विधायक सुरेंद्र राम, अनंत सिंह के करीबी आरजेडी एमएलसी कार्तिक सिंह, AIMIM छोड़कर आरजेडी में आए शाहनवाज आलम ने मंत्री पद की शपथ ली।

सुधाकर सिंह, अनिता देवी समेत 5 और नेताओं ने मंत्री पद की शपथ

आरजेडी नेत्री और राबड़ी देवी की करीबी माने जाने वालीं अनिता देवी ने मंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ जेडीयू विधायक जमा खान, आरजेडी नेता जितेंद्र राय, जगदानंद सिंह के बेटे सुधाकर सिंह और जयंत राज को राज्यपाल ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

समीर महासेठ, शीला मंडल, चंद्रशेखर समेत इन नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

शपथग्रहण के चौथे दौर में आरजेडी के वरिष्ठ नेता समीर महासेठ ने मंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ जेडीयू नेत्री शीला मंडल को भी राज्यपाल ने पद औऱ गोपनीयता की शपथ दिलाई, वह एनडीए सरकार में भी मंत्री रह चुकी हैं। इनके साथ पूर्व आईपीएस सुनील कुमार, चंद्रशेखर और निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह ने शपथ ग्रहण की।

संतोष सुमन समेत पांच और नेताओं ने ली मंत्री शपथ

शपथ ग्रहण के तीसरे दौर में पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के बेटे संतोष कुमार सुमन, मदन कुमार सैनी, ललित यादव, सर्वजीत कुमार और संजय झा ने शपथ ली।

भाई वीरेंद्र की जगह रामानंद यादव बने मंत्री

आरजेडी की ओर से पार्टी के वरिष्ठ नेता भाई वीरेंद्र का आखिरी समय में पत्ता काट दिया गया। उनकी जगह रामानंद यादव को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। इससे भाई वीरेंद्र के खेमे में मायूसी है।

अशोक चौधरी, रामानंद यादव समेत पांच नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

शपथग्रहण के दूसरे दौर में जेडीयू के अशोक चौधरी, श्रवण कुमार, आरजेडी के रामानंद यादव, सुरेंद्र कुमार यादव और लेशी सिंह को राज्यपाल ने मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। श्रवण कुमार नीतीश कुमार की कुर्मी जाति से हैं। वहीं, अशोक चौधरी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रह चुके हैं और फिर जेडीयू में शामिल हो गए थे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments