बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia NewsTwin Tower Demolition : ट्विन टावर का आज आखिरी दिन: पिकनिक प्वॉइंट...

Twin Tower Demolition : ट्विन टावर का आज आखिरी दिन: पिकनिक प्वॉइंट बना ट्विन टावर, लोग ले रहे सेल्फी

नोएडा। नोएडा में सुपरटेक के दो ट्विन टावर आज आखिरी दिन है, दोपहर 2:30 बजे गिरा दिए जाएंगे। आज घड़ी में जैसे ही दोपहर के 2.30 बजेंगे एक बटन दबेगा। अगले 12 सेकेंड में कुछ धमाके होंगे और नोएडा में तनकर खड़े सुपरटेक ट्विन टावर्स जमींदोज हो जाएंगे। दोनों टॉवरों का डिमोलिशन करने वाली कंपनी एडिफिस का दावा है कि भारत में इतनी ऊंची बिल्डिंग का ध्वस्तीकरण आज तक नहीं हुआ। ऐसे में यह ध्वस्तीकरण एक रिकॉर्ड भी बनाएगा। बता दे कि दिल्ली की कुतुबमीनार 72.5 मीटर ऊंची है, जबकि सुपरटेक के दोनों टॉवरों की ऊंचाई 102 मीटर है। दोपहर 2 बजकर 29 मिनट पर डिमोलिशन एक्सपर्ट चेतन दत्ता ब्लैक बॉक्स से जुड़े हैंडल को 10 बार रोल करेंगे। इसके बाद इसमें लगा लाल बल्ब ब्लिंक करना शुरू करेगा। इसका मतलब होगा कि चार्जर ब्लास्ट के लिए तैयार है। इसके बाद दत्ता हरा बटन दबाएंगे। इससे चार डेटोनेटर तक इलेक्ट्रिक वेव जाएगी। इसके बाद 9 से 12 सेकेंड में बिल्डिंग में एक के बाद एक धमाके होंगे। ब्लास्ट होते ही 32 मंजिला इमारत मलबे में बदल जाएगी। कुतुब मीनार से ऊंचे ट्विन टावर से ठीक 9 मीटर दूर सुपरटेक एमरेल्ड सोसायटी है। यहां 650 फ्लैट्स में करीब 2500 लोग रहते हैं। सबसे ज्यादा परेशान इसी सोसाइटी के लोग हैं।

पिकनिक प्वॉइंट बना ट्विन टावर, लोग ले रहे हैं सेल्फी

जहां एक तरफ आस-पास की सोसायटी में रहने वाले लोग खौफ के साये में रह रहे हैं वहीं, तो वहीं कुछ लोगों के यह एक पिकनिक स्पॉट की तरह बन गया है। लोग सुबह चार बजे से यहां पहुंच कर सेल्फी ले रहे हैं। यहां ट्विन टावर के आसपास मीडिया का जमावड़ा तो है ही साथ में सैकड़ों किलोमीटर दूर से भी लोग यहां पहुंच रहे हैं और ध्वस्त होने से पहले टावर के सामने एक सेल्फी लेना चाहते हैं।

3700 किलो बारूद से 12 सेकेंड में गिरेगी पूरी बिल्डिंग

ट्विन टावर गिराने का जिम्मा एडिफाइस नाम की कंपनी को मिला है। ये काम प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता की निगरानी में हो रहा है। वे बताते हैं कि हमने बिल्डिंग में 3700 किलो बारूद भरा है। पिलर्स में लंबे-लंबे छेद करके बारूद भरना होता है। फ्लोर टु फ्लोर कनेक्शन भी किया जा चुका है।

ट्विन टावरों को गिराने को लेकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई

नोएडा के सुपरटेक ट्विन टावरों को गिराने के मद्देनज़र सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इससे पहले सुबह 7 बजे आसपास की सोसाइटी में रहने वाले करीब 7 हजार लोगों को एक्सप्लोजन जोन से हटा दिया गया। अब ट्विन टावर के पास किसी को जाने की इजाजत नहीं है। ट्विन टावर के पास अभी सिर्फ पुलिस है। दोपहर 1 बजे के डेढ़ किलोमीटर के दायरे में सभी को हटा दिया जाएगा। सिर्फ डिमोलिशन करने वाली टीम मौजूद रहेगी। वहीं ट्विन टावर के पास की 2 सोसायटी में रसोई गैस और बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई है। डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साहा के मुताबिक ग्रीन कॉरिडोर बनाए गए हैं। एम्बुलेंस भी मौके पर मौजूद हैं। एक्सप्लोजन जोन में 560 पुलिस कर्मी, रिजर्व फोर्स के 100 लोग और 4 क्विक रिस्पांस टीम समेत एनडीआरएफ टीम तैनात हैं। दोपहर 2.15 बजे एक्सप्रेस-वे को बंद किया जाएगा। आधे घंटे बीतने और धूल हटने के बाद इसे खोला जाएगा। इसके अलावा 5 और रूट बंद किए गए हैं।

निषेध क्षेत्र में होंगे केवल छह लोग

ब्लास्ट साइट के आस-पास के 500 मीटर इलाके को निषेध क्षेत्र घोषित किया गया है। यहां केवल छह लोग ब्लास्ट साइट से 100 मीटर की दूरी पर रहेंगे। इनमें तीन दक्षिण अफ्रीकी ब्रिंकमैन, मार्टिंस, केविन स्मिथ शामिल हैं। इनके अलावा साइट इंचार्ज मयूर मेहता, इंडियन ब्लास्टर चेतन दत्ता और एक पुलिस अधिकारी वहां होंगे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments