शनिवार, अगस्त 13, 2022
Advertisement
होमSports Newsनो सेक्स, नो शराब! कतर में इन नियमों से होगा फुटबॉल वर्ल्ड...

नो सेक्स, नो शराब! कतर में इन नियमों से होगा फुटबॉल वर्ल्ड कप

नई दिल्ली। इस साल नवंबर में फुटबॉल वर्ल्ड कप (FIFA World Cup 2022) खेला जाना है। फीफा वर्ल्ड कप 2022 (FIFA World Cup 2022 In Qatar) की मेजबानी इस बार कतर के पास है। टूर्नामेंट के मुकाबले 21 नवंबर से 18 दिसंबर से बीच खेले जाने हैं। 5 शहरों में 32 टीमों के बीच मुकाबले होंगे। फीफा वर्ल्ड कप (FIFA World Cup 2022) को लेकर खाड़ी देश में कई तरीके की बंदिशें लगाई जा रही हैं। फुटबॉल के फैंस दुनिया के किसी भी कोने में महंगी से महंगी टिकट खरीदकर खेल और जिंदगी एन्जॉय करने पहुंच जाते हैं। लेकिन इस बार उनकी मस्ती में कतर सरकार खलल डाल रही है।

इस बार फीफा वर्ल्ड कप 2022 में फैंस को एन्जॉय करने के लिए कुछ नहीं मिलेगा। फीफा वर्ल्ड कप में न तो यहां शराब मिलेगा और न ही सेक्स। इस साल के विश्व कप में पहली बार अनिवार्य रूप से सेक्स प्रतिबंध है। फुटबॉल फैंस को खुली चेतावनी दे दी गई है कि इस साल के विश्व कप में वन-नाइट स्टैंड आपको सात साल तक सलाखों के पीछे रख सकता है। पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि, ’जब तक आप पति-पत्नी के रूप में नहीं आ रहे हैं, तब तक सेक्स आपके लिए दूर की कौड़ी साबित हो सकता है। इस टूर्नामेंट में निश्चित रूप से कोई पार्टी नहीं होगी। इस साल के विश्व कप में पहली बार अनिवार्य रूप से सेक्स प्रतिबंध है।

खुले में नहीं कर सकते रोमांस

दरअसल, कतर में शादी के बाहर सेक्स और समलैंगिकता अवैध है। पहले से ही अलग-अलग सरनेम वाले फैंस को होटल का कमरा तक नहीं मिल रहा। मैच के बाद शराब और पार्टी वर्ल्ड कप की संस्कृति है। कतर में फीफा 2022 विश्व कप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नासिर अल-खतर ने कहा, हमारे लिए हर एक फैन की सिक्योरिटी बेहद अहम है। खुले में तो पति-पत्नी भी किसी तरह के प्यार का इजहार नहीं कर सकते क्योंकि यह हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। कतर एक रूढ़िवादी देश है और अगर आप यहां आ रहे हैं तो नियमों का पालन करना ही होगा।

शराब और समलैंगिक झंडे भी बैन!

कतर फुटबॉल संघ के महासचिव मंसूर अल अंसारी ने कहा कि टूर्नामेंट के दौरान इंद्रधनुषी झंडों पर भी प्रतिबंध लगाने का विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा, आप एलजीबीटी के बारे में अपना विचार प्रदर्शित करना चाहते हैं, तो इसे ऐसे समाज में प्रदर्शित करें जहां यह स्वीकार हो। कतर में इसकी कोई जगह नहीं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments