रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमCrime NewsDausa News : विधायक का भाई नकल करवाते गिरफ्तार, परीक्षा में डमी...

Dausa News : विधायक का भाई नकल करवाते गिरफ्तार, परीक्षा में डमी कैंडिडेट बैठाया, पुलिस ने सेंटर से दोनों को पकड़ा

दौसा। राजस्थान के दौसा जिले में महुआ से निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला के छोटे भाई को परीक्षा में फर्जीवाड़ा करते गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि हुड़ला के छोटे भाई हरिओम मीणा ने पैसे लेकर ऋषि कुमार को डमी कैंडिडेट के रूप में परीक्षा में बैठाया। दोनों को सोमवार को जयपुर में शिवदासपुरा इलाके में परीक्षा सेंटर के बाहर से अरेस्ट किया गया। पुलिस ने बताया कि वाईआईटी (याज्ञवल्य इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी सीतापुरा जयपुर) कॉलेज में सोमवार को SSC-MTS (स्टाफ सिलेक्शन कमीशन परीक्षा ऑफ मल्टी टास्किंग स्टाफ) का पेपर चल रहा था। इस पेपर में ऋषि कुमार पुत्र सियाराम को डमी कैंडिडेट बनाकर परीक्षा दिलाई जा रही थी। यह डमी कैंडिडेट उमेश पुत्र कंवर पाल मीणा की जगह परीक्षा दे रहा था।

पुलिस को फर्जीवाड़े की जानकारी मिली तो मौके पर पहुंची। इस दौरान पुलिस ने कार में बैठे हुए विधायक के भाई हरिओम मीणा और परीक्षा देकर आ रहे ऋषि कुमार को गिरफ्तार किया। दोनों से शिवदासपुरा थाने में पुलिस पूछताछ कर रही है।

चार जगहों पर बैठा चुके डमी कैंडिडेट

DCP साउथ योगेश गोयल ने बताया कि पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि नकल गिरोह का सरगना टोडाभीम का कमल कुमार मीणा है। कमल ने विधायक के भाई हरिओम मीणा से संपर्क साधा। कहा- उसके पास क्या कोई डमी कैंडिडेट हैं, जो परीक्षा में बैठ सकते हैं। इसके बाद दोनों के बीच पैसों को लेकर एक बड़ी डील हुई। दोनों ने मिलकर अभ्यर्थी की जगह जिस ऋषि कुमार को भेजा उसका फोटो अभ्यर्थी से मिलता जुलता बना दिया। हरिओम ने कमल मीणा से कितने रुपए लिए और ऋषि को कितने रुपए दिए इसकी जानकारी जुटा रही है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अब तक चार जगहों पर डमी कैंडिडेट बैठाकर परीक्षा में फर्जीवाड़ा करवा चुके हैं। शिवदासपुरा थाना पुलिस फरार कमल कुमार मीणा और मुख्य अभ्यर्थी सपोटरा निवासी उमेश मीणा की तलाश कर रही है।

निर्दलीय विधायक हैं हुड़ला

ओम प्रकाश हुड़ला दौसा जिले की महुआ विधानसभा सीट से निर्दलीय विधायक हैं। हुड़ला पूर्व आईआरएस अधिकारी रहे हैं। राजस्थान की पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार में वह संसदीय सचिव रहे थे। 2018 में उन्होंने बीजेपी कैंडिडेट गोलमा देवी को निर्दलीय चुनाव लड़कर करीब 16000 वोटों से हराया था। ओमप्रकाश को वाई श्रेणी की सुरक्षा है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments