बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia Newsजोमैटो ने 'महाकाल की थाली' वाला विज्ञापन हटाया, विरोध के बाद कंपनी...

जोमैटो ने ‘महाकाल की थाली’ वाला विज्ञापन हटाया, विरोध के बाद कंपनी ने माफी मांगी

उज्जैन। ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो के विज्ञापन को महाकाल से जोड़ने पर विवाद हो गया। विज्ञापन में एक्टर ऋतिक रोशन महाकाल की थाली ऑर्डर करते हैं। जिसे लेकर जोमैटो का बहिष्कार करने और विज्ञापन हटाने की मांग उठने लगी। सोशल मीडिया पर विवाद बढ़ने के बाद अब जोमैटो ने एड पर सफाई दी है। जोमैटो ने कहा कि विज्ञापन में महाकाल रेस्टोरेंट का जिक्र किया गया है, न कि श्रीमहाकालेश्वर मंदिर का। महाकाल रेस्टोरेंट उज्जैन का सबसे ज्यादा डिलीवरी देने वाला पार्टनर है और विज्ञापन में इसी रेस्टोरेंट से थाली मंगवाने का जिक्र था।

किसी की भावना आहत करने का नहीं था उद्देश्य

जोमैटो ने आगे बताया कि विज्ञापन का वीडियो पैन इंडिया का हिस्सा था। जिसमें टॉप स्थानीय रेस्टोरेंट और वहां के फेमस फूड को तरजीह दी गई थी। इसीलिए उज्जैन से महाकाल रेस्टोरेंट को चुना गया था। हमलोग उज्जैन के लोगों की भावना का आदर करते हैं। जोमैटो का किसी की भावना आहत करने का उद्देश्य नहीं था। इसके लिए हम माफी मांगते हैं। इस विज्ञापन को बंद कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें :- जोमैटो के विज्ञापन में ऋतिक के महाकाल थाली पर बवाल: मंदिर के पुजारी बोले- दूसरा समुदाय होता तो…

मंदिर के पुजारी ने जताई थी आपत्ति

बता दें कि मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर के पुजारी महेश ने कहा, ऐसे एड जारी करने से पहले कंपनी को सोचना चाहिए। हिंदू समाज सहिष्णु है, वो कभी उग्र नहीं होता। अगर कोई दूसरा समाज होता तो ऐसी कंपनी में आग लगा देता। कंपनी हमारी भावनाओं के साथ ऐसा खिलवाड़ न करें। कंपनी ने ये भ्रामक प्रचार किया है। पुजारी ने कहा, महाकाल मंदिर अन्न क्षेत्र में भक्तों को भोजन थाली में दिया जाता है, लेकिन थाली का भोजन डिलीवर करने का कोई प्रावधान नहीं है। जो कंपनी नॉनवेज खाना भी डिलीवर कर रही हो, उसे तुरंत महाकाल के नाम की थाली का भ्रामक विज्ञापन बंद कर देना चाहिए। कंपनी ने हिंदुओं भावना को ठेस पहुंचाई है। हम इसका घोर विरोध करते हैं। इसके साथ ही हिंदू संगठन जोमैटो का विरोध जताने लगे थे। जिसके बाद ट्विटर पर बायकॉट जोमैटो ट्रेंड करने लेगा।

12 ज्योतिर्लिंग में शामिल हैं महाकालेश्वर

बता दें कि भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन में है। यह एक मात्र दक्षिणमुखी ज्योतिर्लिंग है। उज्जैन में महाकाल का वास होने से पुराने साहित्य में उज्जैन को महाकालपुरम भी कहा गया है। महाकालेश्वर की सुबह से रात तक कुल सात आरतियां होती हैं। इस बीच तीन बार श्रृंगार भी किया जाता है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments