रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमEntertainment Newsबिहार में अजब प्रेम की गजब कहानी! प्रेमिका के पीछे पड़ा था...

बिहार में अजब प्रेम की गजब कहानी! प्रेमिका के पीछे पड़ा था प्रेमी, दो बार किया ऐसा काम, जानिए फिर क्या हुआ…

छपरा। बिहार के छपरा में प्रेम का अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जहां एक युवक ने अपनी प्रेमिका को पाने के लिए बहुत कोशिशें की। युवक ने लड़की की दो बार शादी भी तुड़वा दी। मामला पंचायत तक पहुंचने के बाद आपसी रजामंदी से पंचायत ने प्रेमी से ही लड़की की शादी का फैसला सुनाया। पूरा मामला पानापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित ठाकुरबाड़ी मंदिर का है। यहीं सभी लोगों की मौजूदगी में नीरज और बबिता एक सूत्र में बंध गए।

यह भी पढ़ें :- जब KGF फैंस ने इस शख्स को समझ लिया ‘रॉकी भाई’, बोले-ये क्या काम करने लग गए आप! देखिए वीडियो

प्रेमिका को पाने के लिए दो बार तुड़वाई शादी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, लड़का नीरज इलाके रामपुररुद्र 161 निवासी शंकर राय के पुत्र हैं, वहीं जिस लड़की बविता से उसकी शादी हुई उसका ननिहाल इसी गांव में था। बविता मशरक थाना क्षेत्र के हंसापिर गांव निवासी महेश यादव की बेटी है। अपने ननिहाल में ही बविता रहती थी जब दोनों के बीच प्रेम प्रसंग शुरू हुआ। दोनों का प्रेम संबंध दाम्पत्य बंधन में बंधता इससे पहले ही युवती के पिता ने जून 2021 में उसकी शादी मशरक के एक युवक से कर दी। ये सूचना मिलते ही नाराज युवक प्रेमिका के ससुराल पहुंच गया जिस कारण युवती के दाम्पत्य जीवन में दरार पड़ गई। ससुरालवालों ने उसे घर से निकाल दिया। लोकलाज से बचने के लिए युवती के पिता उसके प्रेमी संग शादी को तैयार भी हो गए। हालांकि, मामले में फिर ट्विस्ट आया। नीरज ने अपनी प्रेमिका को पाने के लिए बहुत कोशिशें की। उसने बबिता के घरवालों ने उसकी शादी दो बार तय की, लेकिन प्रेमी नीरज उन्हें तुड़वाने में सफल रहा। आखिरकार घरवालों ने थककर अपनी बेटी का हाथ प्रेमी नीरज को ही सौंप दिया। पानापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित ठाकुरबाड़ी मंदिर में बड़ी संख्या में ग्रामीणों की उपस्थिति में दोनों की शादी कराई गई।

यह भी पढ़ें :- Shocking Video : दुनिया का सबसे हैरान कर देने वाला नजारा, ड्रोन में बैठकर उड़े दो शख्स

एक सूत्र में बंधे नीरज और बबिता

युवक के माता-पिता ने दो लाख रुपये दहेज की मांग करने लगे। जिसे पूरा करने में युवती के पिता असमर्थ नजर आए। दहेज देने में असमर्थ युवती के पिता ने तीन महीने पहले अपनी बेटी की शादी गोपालगंज के बैकुंठपुर स्थित जगदीशपुर गांव में कर दी। हालांकि, प्रेमी युवक फिर लड़की के ससुराल पहुंच गया और युवती और उसके पति को जान मारने की धमकी देने लगा।

परेशान होकर पंचायत ने करवा दी शादी

युवक की धमकी से उसके ससुराल वाले डर गए और युवती को घर से निकाल दिया। युवती फिर मायके पहुंची। इधर, प्रेमी की कारगुजारी से पूरी तरह टूट चुकी युवती अपने पिता के साथ रामपुररुद्र 161 गांव पहुंची जहां पंचायती के दौरान युवक ने उसे पत्नी के रूप में स्वीकार करने की हामी भर दी। गांव के ही मंदिर में सबके सामने दोनों एक दूजे के हो गए।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments