बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमRajasthan Newsलोग रौंदते रहे और हम मिन्नतें करते रहे… खाटू श्यामजी मेले में...

लोग रौंदते रहे और हम मिन्नतें करते रहे… खाटू श्यामजी मेले में भगदड़ : तीन महिला श्रद्धालु की मौत

सीकर। राजस्थान के सीकर के खाटू श्याम के मंदिर में ग्यारस को लगने वाले मासिक मेले में भगदड़ मच गई। हादसे में 3 महिलाओं की मौत हो गई। वहीं भगदड़ में 12 से अधिक लोग घायल हो गए। जिसमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। हादसा सोमवार सुबह 5:00 हुआ, जब एकादशी के मौके पर दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ काफी बढ़ गई थी। देर रात से ही श्रद्धालु लाइन में लगे थे। जैसे ही सुबह मंदिर के पट खुले, भगदड़ मच गई। हादसे में मारी गई एक महिला का नाम शांति देवी है। दो की पहचान अभी नहीं हो पाई है। शवों को खाटूश्यामजी हॉस्पिटल की मॉर्चुरी में रखवाया गया है, जहां उनका पोस्टमार्टम होगा।

लोग रौंदते रहे और हम मिन्नतें करते रहेघायल

मृतकों और घायलों के परिजनों ने बताया कि हम रोते रहे, मिन्नते करते रहें कि रुक जाओ लेकिन किसी ने एक न सुनी। लोग हमें रौंदते हुए आगे बढ़ रहे थे। हम चीखते रहें। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जैसे ही मंदिर खुला सबसे पहले दर्शन करने की होड़ मच गई। कुछ लोग रेलिंग फांदकर जाने की कोशिश कर रहे थे, इसीमें भगदड़ मच गई।

हालात काबू में, दर्शन दोबारा शुरू- पुलिस

पुलिस ने बताया कि खाटू श्याम में सुबह 5:00 बजे भगदड़ मची। मंदिर के पट बंद किया गया। इसी दौरान भीड़ बेकाबू हो गई और लोगों ने धक्का-मुक्की करना शुरू कर दिया। कुछ लोगों ने बताया कि धक्का-मुक्की में एक महिला बेहोश होकर गिर पड़ी। इसके चलते पीछे आ रहे लोग भी गिरने लगे। भगदड़ की खबर मिलते ही मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों और मंदिर कमेटी के गार्ड ने आनन-फानन में व्यवस्था संभाली। पुलिस कर्मियों ने घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया। इसके बाद मंदिर में दर्शन दोबारा शुरू हो गए हैं।

प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री गहलोत ने दुख जताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि खाटू श्यामजी में भगदड़ में श्रद्धालुओं की मौत से दुखी हूं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हादसे पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि हादसे में मारी गईं तीनों महिलाओं के परिजनों के साथ उनकी संवेदनाएं हैं। उन्होंने घायलों की जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।

मंदिर में कई किलोमीटर लंबी लगती है लाइन

भगदड़ में शिवचरण (50), मनोहर (40), करनाल की इंदरादेवी (55), अलवर की अनोजी (40) घायल हुए हैं। मनोहर की हालत गंभीर है। उन्हें जयपुर रेफर किया गया है। खाटूश्याम जी के मासिक मेले में लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। पट बंद होने के कारण श्रद्धालुओं की कई किलोमीटर की लाइन लग जाती है।

ग्यारस पर पांच लाख से ज्यादा लोग करते हैं दर्शन

हर महीने दो बार ग्यारस तिथि पर खाटूश्याम जी के दर्शन के लिए लाखों लोग उमड़ते हैं। ऐसा अनुमान है कि हर ग्यारस पर यहां राजस्थान समेत अन्य प्रदेशों से 5 लाख से ज्यादा लोग दर्शन के लिए आते हैं। ग्यारस पर खाटूश्याम जी के दर्शन का विशेष महत्व माना जाता है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments