शनिवार, अगस्त 13, 2022
Advertisement
होमPolitics NewsRSS नेता के. प्रभाकर का बयान, Congress के कारण एक दिन तिरंगे...

RSS नेता के. प्रभाकर का बयान, Congress के कारण एक दिन तिरंगे की जगह लहराएगा भगवा

आरएसएस के कर्नाटक के नेता के. प्रभाकर भट्ट ने हिंदू राष्ट्र की बात करते हुए कहा की एक दिन ऐसा आएगा जब भारत में तिरंगे के स्थान पर भगवा लहराएगा. उन्होंने कहा की ऐसा सिर्फ कांग्रेस पार्टी की वजह से होगा. अब उनके दिए इस बयान के बाद विवाद खड़ा हो सकता है.

उन्होंने आगे कहा की अगर भारत का हिंदू एकजुट हो जाता है तो उस दिन भगवा राष्ट्रीय ध्वज की जगह ले सकता है. और ऐसे में भगवा हमारे देश का राष्ट्रीय ध्वज बन जाएगा. RSS नेता के. प्रभाकर ने ये बयान मेंगलुरु के कुटूर में विश्व हिंदू परिषद् की कर्णिका कोरगज्जा धर्मस्थल द्वारा आयोजित हिंदू एकता की एक पदयात्रा के समय दिया है. उन्होंने कहा की हिन्दुओं को एक हो जाना चाहिए और अगर ऐसा होता है तो भगवा फिर से लहरा सकता है.

प्रभाकर ने वहां मौजूद लोगों से पूछा की आप बताओं तिरंगे से पहले कौनसा झंडा था? भारत की आजादी से पहले ब्रिटेन का झंडा था. उस समय भारत का ध्वज एक हरा तारा और चांद होता था. उन्होंने कहा की कैसे हम तिरंगे की जगह भगवा को अपना सकते है? उन्होंने कहा की अगर भारत की संसद के दोनों सदन के ज्यादातर सदस्य मतदान करते है तो, ध्वज को बदला जा सकता है.

प्रभाकर ने अपने भाषण के आखिरी में कहा की वो देश के राष्ट्रीय ध्वज का पूरा आदर करते है. लेकिन उन्होंने कहा की कुछ लोगो ने अल्पसंख्यक समुदाय के तुष्टीकरण के लिए इस तिरंगे को अपनाया था. और इसके साथ ही वंदे मातरम् को नकारते हुए राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ को भी अपनाया गया.

यह भी पढ़े:-आमिर खान ने ‘The Kashmir Files’ फिल्म को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले भारत के सभी लोग इस फिल्म को जरुर देखें  

कर्नाटक से शुरू हुए हिजाब विवाद पर बोलते हुए उन्होंने कहा की ये जिहाद का ही एक रूप है. PFI जैसे संगठन हिजाब को किताब की जगह महत्वपूर्ण बताकर छात्रों को उकसा रहे है. हिजाब पर बोलते हुए उन्होंने कहा की मुझे ये देखकर अजीब लगता है की कुछ मुस्लिम छात्राए स्कूल में हिजाब पहनने को लेकर जोर दे रही है, जबकि इसके विपरीत सानिया मिर्जा और सारा अबूबकर इन सबके खिलाफ है.

यह भी पढ़े:-PM इमरान खान की जाने वाली है कुर्सी, पाक सेना ने कहा, ‘OIC की बैठक के बाद जाना तय

उन्होंने आगे कहा की कर्नाटक हाईकोर्ट के हिजाब को लेकर दिए आदेश के बाद कुछ मुस्लिम लोग दुकाने बंद करके राष्ट्रद्रोह कर रहे है. इस सबके पीछे केवल देश के साम्प्रदायिक सौहाद्र को बिगाड़ने की साजिश है.

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments