शनिवार, अगस्त 13, 2022
Advertisement
होमIndia NewsAgnipath Scheme: 'अग्निवीर बीच में नहीं छोड़ सकते ट्रेनिंग' वायुसेना ने भर्ती...

Agnipath Scheme: ‘अग्निवीर बीच में नहीं छोड़ सकते ट्रेनिंग’ वायुसेना ने भर्ती की गाइडलाइन जारी, पढ़ें विस्तार से

नई दिल्ली। इंडियन एयरफोर्स ने अग्निवीरों की भर्ती की गाइडलाइन जारी कर दी है। तीनों सेनाओं में सबसे पहले एयरफोर्स ने ही गाइडलाइन जारी की है। वायुसेना प्रमुख वी आर चैधरी ने कहा कि 2022 के लिए अग्निपथ योजना के तहत (सशस्त्र बल में) भर्ती किए जाने वालों की उम्र सीमा बढ़ा कर 23 वर्ष कर दी गई है, जिससे सशस्त्र बल में भर्ती के नए ‘मॉडल’ के तहत युवाओं के बड़े हिस्से को शामिल किया जा सकेगा। गाइडलाइन के अनुसार अग्निवीरों को अपनी चार साल की नौकरी पूरी करनी होगी। इससे पहले वह फोर्स नहीं छोड़ सकेंगे। ऐसा करने के लिए उन्हें अधिकारी की सहमति लेनी होगी।

सम्मान और छुट्टी दोनों मिलेंगे

अग्निवीरों की भर्ती को लेकर सबसे बड़ा पेंच छुट्टी और अवार्ड का था। एयरफोर्स ने साफ किया है कि अग्निवीर सभी सैन्य सम्मान और पुरस्कार के हकदार होंगे। इन्हें साल में तीस दिन की छुट्टी भी दी जाएगी। इसके अलावा बीमार होने पर डॉक्टर की सलाह पर सिक लीव भी मिलेगी।

ये तय हुए मानक

अग्निवीरों को किसी भी सेना में शामिल का अधिकार नहीं मिलेगा। इनका फोर्स या अन्य जॉब में सिलेक्शन सरकारी नियमों के तहत ही होगा।
18 साल से कम आयु वाले अभ्यर्थियों को अपने माता-पिता या अभिभावक की स्वीकृति जरूरी होगी।
अग्निवीरों में 17.5 साल से 21 साल तक के युवाओं को फिजिकल फिटनेस और शैक्षिक योग्यता के आधार पर भर्ती किया जाएगा। अभ्यर्थी को नामांकन कराना होगा।
नियुक्ति चार साल के लिए होगी। जॉब पूरी होने के बाद इंडियन एयरफोर्स इन्हें अग्निवीर होने का प्रमाणपत्र देगी, जिसे ये युवा अपने रिज्यूमे में अग्निवीर के तौर पर अपडेट कर सकेंगे।
मेडिकल ट्रेडमैन को छोड़कर भारतीय वायु सेना के नियमित कैडर में एयरमैन के रूप में नामांकन केवल उन्हीं कर्मियों के लिए उपलब्ध होगा, जिन्होंने अग्निवीर का कार्यकाल पूरा किया होगा।
अग्निवीरों की ड्रेस तय होगी, युवाओं को अपनी वर्दी में ही ड्यूटी करनी होगी।
अग्निवीरों को कहीं भी किसी भी प्रकार की ड्यूटी पर भेजा जा सकता है।
अग्निवीर चुने जाने के बाद युवाओं को मिलेट्री ट्रेनिंग दी जाएगी।
ड्यूटी के दौरान अग्निवीरों को सभी प्रकार की मेडिकल सुविधाएं दी जाएंगी।
अग्निवीरों को पहले साल तीस हजार रुपए महीने वेतन मिलेगा। इसके अलावा ड्रेस और ट्रेवल अलाउंस भी दिया जाएगा।
अग्निवीरों का 48 लाख रुपए का बीमा कराया जाएगा, जो उनके सेवा काल तक प्रभावी रहेगा।
ड्यूटी के दौरान अगर अग्निवीर का निधन हो जाता है तो उन्हें बीमा की रकम मिलेगी। इसके अलावा उनके बचे हुए कार्यकाल का वेतन भी मिलेगा।

यह भी पढ़े :- अग्निपथ पर सरकार का नया फैसलाः CAPF और असम राइफल्स में अग्निवीरों को मिलेगा 10% आरक्षण, आयु सीमा में भी छूट

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments