रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमIndia Newsराजस्थान में 10 जून के बाद बदलेगा मौसम, अगले 2-3 दिनों में...

राजस्थान में 10 जून के बाद बदलेगा मौसम, अगले 2-3 दिनों में झेलनी पड़ेगी चिलचिलाती गर्मी

नई दिल्ली। मानसून आ गया है, लेकिन चिलचिलाती गर्मी अभी भी उत्तरी और मध्य भारत को प्रभावित कर रही है। वहीं राजस्थान की बात करें तो प्रदेश में अगले हफ्ते के अंत (10 जून के बाद) तक प्रदेश में प्री मानसून की बारिश का दौर शुरू हो सकता है। मौसम विभाग ने 12 जिलों के लिए आंधी का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो असम, त्रिपुरा, मेघालय समेत तमाम पूर्वोत्तर राज्यों में मानसून की एंट्री के बाद यहां भी बारिश की उम्मीद बढ़ गई है।

दो से तीन दिन रहेंगे बेहद गर्म

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के ताजा पूर्वानुमान के मुताबिक, अगले दो से तीन दिन उत्तर भारत में बेहद गर्म रहेंगे। मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों के लिए पूर्वोत्तर भारत में भारी बारिश की भी भविष्यवाणी की है। इस बीच, दिल्ली में शनिवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 28.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग ने कहा कि दक्षिण पश्चिम मानसून शुक्रवार को अपनी सामान्य शुरुआत से कम से कम चार दिन पहले पश्चिम बंगाल पहुंचा और राज्य के उप-हिमालयी जिलों के कुछ हिस्सों को कवर किया।

यह भी पढ़े :- अवैध हथियार रखने वाले तीन आरोपियों को निम्बाहेड़ा थाना पुलिस ने किया गिरफ्तार, देखे कैसे करते थे अवैध काम

दिल्ली में 47 डिग्री से पार पहुंचा पारा

राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार (4 जून, 2022) को 47 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान के साथ भीषण गर्मी देखी गई। मौसम विभाग ने कहा कि मुंगेशपुर में अधिकतम तापमान 47.1 डिग्री सेल्सियस और पीतमपुरा में 46.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। राजस्थान के गंगानगर जैसे आसपास के स्थानों में अधिकतम तापमान 47.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हरियाणा के हिसार में न्यूनतम तापमान 46.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।


स्काईमेट की मौसम रिपोर्ट के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ चुका है और अब नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा राज्यों की ओर बढ़ रहा है। लगभग 48 घंटों के भीतर, स्थितियां जल्द ही पूरे पूर्वोत्तर भारत को कवर करने के लिए अनुकूल हो जाती हैं। इसके अलावा, दक्षिण-पश्चिम मानसून समय के साथ उत्तर-पूर्वी भारतीय क्षेत्र में आगे बढ़ा है। उत्तर-पूर्वी भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश शुरू हो गई है। पिछले 24 घंटों में गुरुवार सुबह 8रू30 बजे से उत्तरी लखीमपुर में 121 मिमी, सिलचर में 66 मिमी, इंफाल में 30 मिमी, डिब्रूगढ़ में 21 मिमी और गुवाहाटी में 17 मिमी बारिश हुई। पश्चिम बंगाल और सिक्किम के उप-हिमालयी क्षेत्र में भी बारिश फैल गई है, गंगटोक में 104 मिमी बारिश हुई है।

यह भी पढ़े :- Rajasthan High Court : राजस्थान हाईकोर्ट के इतिहास में पहली बार पति-पत्नी होंगे न्यायाधीश

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments