शुक्रवार, दिसम्बर 2, 2022
Advertisement
होमHealth Newsयुवा पीड़ी के लोग क्यों हो रहे है हार्ट अटैक के शिकार,...

युवा पीड़ी के लोग क्यों हो रहे है हार्ट अटैक के शिकार, वो तथ्य जिनको जानकार आप हो जायेंगे हैरान

आज के दौर में हार्ट अटैक के मामलों में काफी बढ़ोतरी हो रही है, हाल के कुछ सालों  में आपने देखा होगा की कम उम्र के लोगों में दिल का दौरा पड़ने की वजह से कई लोगों की जान गयी है.

हार्ट अटैक को अगर आसान भाषा में कहे तो, ऐसा तब होता है जब ह्रदय में खून के प्रवाह में रूकावट आ जाती है. और रक्त के प्रवाह में रूकावट आने का कारण है, बॉडी में फैट और कोलेस्ट्रोल का बढ़ जाना. और इस कारण खून के प्रवाह में ये आ जाते है, तो खून का थका जम जाता है और रक्त का प्रवाह सही तरीके से नही हो पाता है. जिससे रुका हुआ रक्त ह्रदय की मांसपेशियों के हिस्से को नुकसान पंहुचाता है और यहाँ तक उसे पूरी तरीके से ख़राब कर देता है.

वर्तमान समय में युवाओं में हार्ट अटैक के मामलों में काफी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. इन सबके निम्न कारण हो सकते है-

1.स्मोकिंग (Smoking)

आज के समय में युवाओं में स्मोकिंग करने का प्रचलन बढ़ता जा रहा है, और युवाओं में कोरोनरी धमनी की बीमारी के लिए स्मोकिंग को महत्वपूर्ण कारक माना जा रहा है. स्मोकिंग ने युवाओं में हार्ट अटैक की संभावना को काफी हद तक बढ़ा दिया है. सामने आ रहे रिसर्चों के अनुसार धूम्रपान करने के कारण हार्ट अटैक का खतरा 8 गुना तक बढ़ जाता है.

2. हाई कोलेस्ट्रोल (High Cholesterol)

आज के समय में बदलते खान-पान के कारण बॉडी में कोलेस्ट्रोल के बढ़ने के कारण हार्ट अटैक की समस्या बढती जा रही है. एक रिसर्च के अनुसार 190 मिलीग्राम से ज्यादा ‘ख़राब’ और LDL कोलेस्ट्रोल वाले लोगों में हार्ट अटैक जैसी समस्या होने का खतरा रहता है. और इस कारण बॉडी में कोलेस्ट्रोल के लेवल को कंट्रोल रखना चाहिए.

3. जंक फ़ूड (Junk Food)

आज के समय में युवा घर के खाने के बदले अपनी भूख को मिटाने के लिए जंक फ़ूड खाना पसंद करते है. और आज युवा कई तरह के जंक फ़ूड खाना पसंद करते है. और उनके इस खाने में प्रोटीन, फाइबर की जगह जंक और तली-भुनी चीजे काफी अधिक होती है, इनको खाने से बॉडी में अधिक कैलोरी बढ़ जाती है, और इन सबका असर उनके हार्ट पर पड़ता है.

4. अवसाद (Depression)

आज के समय में ज्यदातर लोग डिप्रेशन की समस्या से जूझ रहे है, जिस कारण उनके दिमाग के साथ ही शरीर भी इससे प्रवाहित हो रहा है. अवसाद तनाव हार्मोन को जारी करता है, इससे धमनियों के ऊपर दबाव पड़ता है और वो सिकुड़ने लगती है. डिप्रेशन के कारण हमारे शरीर और जीवनशैली पर काफी गलत असर पड़ता है, जिस कारण हार्ट की समस्या उत्पन होती है.

5. मोटापा (obesity)

अनियमित दिनचर्या और गलत खानपान के कारण मोटापे की समस्या बढती जा रही है. मोटे लोगों के शरीर में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति के लिए ज्यादा रक्त की जरुरत होती है.इस कारण शरीर में ब्लड प्रेशर अधिक हो जाता है. और इस कारण ब्लड को आगे सर्कुलेट करने के लिए बॉडी को अधिक मात्रा में दबाव की आवश्यकता होती है. और इस कारण हाई ब्लड प्रेशर के कारण भी हार्ट अटैक की समस्या होती है.

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments