बुधवार, अगस्त 17, 2022
Advertisement
होमIndia Newsमनी लॉन्ड्रिंग केस में ED का एक्शन : चाइनीज मोबाइल कंपनी वीवो...

मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED का एक्शन : चाइनीज मोबाइल कंपनी वीवो और उससे जुड़ी 44 फर्मों पर छापा

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने मंगलवार को चीनी स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी वीवो (Chinese Phone Maker Company Vivo) पर कार्रवाई की। ED ने उससे जुड़ी फर्मों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस (money Laundering Case) में देश भर में 44 जगहों पर तलाशी जारी है। चीनी मोबाइल फोन कंपनियां आईटी और ईडी के निशाने पर हैं। ईडी ने इस साल फरवरी में शाओमी के अवैध रूप से पैसा भेजने के मामले में जांच शुरू की थी। प्रवर्तन निदेशालय के अनुसार शाओमी ने भारत में काम 2014 में और 2015 से पैसा भेजना शुरू किया। आयकर विभाग ने पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव के बीच देश के दस राज्यों में चीनी मोबाइल फोन कंपनियों के परिसरों पर छापे मारे हैं। इन कंपनियों में ओप्पो, शाओमी और वन प्लस शामिल हैं। विभागीय सूत्रों ने बताया, दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, मुंबई, बेंगलुरु, कोलकाता, गुवाहाटी, इंदौर, चेन्नई, हैदराबाद व अन्य शहरों में इन कंपनियों के दो दर्जन से अधिक परिसरों पर कार्रवाई बुधवार सुबह से देर रात तक जारी थी। कुछ फिनटेक कंपनियों पर भी कार्रवाई की जा रही है।

मोबाइल फोन कंपनियों के कार्यकारी स्तर के कई अधिकारी भी जांच के दायरे में हैं। फिलहाल इनसे पूछताछ की जा रही है। सरकारी सूत्रों ने बताया, इन कंपनियों में बड़ी मात्रा में कर चोरी की गोपनीय जानकारी मिली थी। लंबे समय से आयकर विभाग इनकी गतिविधियों पर नजर रखे था। पुख्ता जानकारी मिलने के बाद छापे डालने का फैसला किया गया। सभी जगह से भारी संख्या में डिजिटल डाटा जब्त किया गया है। हालांकि, विभाग ने बरामदगियों के बारे में कोई जानकारी देने से मना कर दिया है।

नोएडा-ग्रेनो में पांच जगह छापे

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में ओप्पो व सहयोगी पांच कंपनियों में आयकर विभाग ने छापे मारे। सूत्रों के मुताबिक, विभाग की दिल्ली की टीम इसे अंजाम दे रही है। विभाग के स्थानीय कार्यालय को बाद में लॉजिस्टिक का इंतजाम करने के लिए कहा गया। ग्रेटर नोएडा के अलावा नोएडा में सेक्टर-चार व सेक्टर-63 में रात तक कार्रवाई चली। इकोटेक-2 सेक्टर स्थित ओप्पो फैक्टरी में अधिकारी शाम तक मौजूद रहे। उन्होंने कई दस्तावेजों को बारीकी से खंगाला। सूत्रों का कहना है, फैक्टरी में टैक्स चोरी व स्थानीय लोगों को रोजगार देने में गड़बड़ी करने का आरोप है। छापे के दौरान कार्यालय में तैनात कर्मचारियों को भी अंदर ही रोक दिया गया था।

ओप्पो के सीईओ के ठिकानों से नकदी और आभूषण मिले

गुरुग्राम में ओप्पो मोबाइल कंपनी के कॉरपोरेट आफिस के साथ गोदाम व सीईओ नवनीत नाकरा के आवास व कैंप कार्यालय पर छापे में बेनामी संपत्ति से जुड़े साक्ष्य, आभूषण, नकदी के साथ एफडी के कागजात भी बरामद किए हैं। ओप्पो के सीईओ नाकरा पहले एपल के सीईओ थे। उनके हेमिल्टन कोर्ट स्थित ग्लेरिया मार्केट स्थित आवास एवं कैंप कार्यालय पर छापा मारा गया।

हम सरकार से सहयोग कर रहे हैं : ओप्पो

इस बीच ओप्पो कंपनी ने मीडिया को बताया कि एक निवेश पार्टनर के रूप में वह भारत के कानूनों का सम्मान करती है। कंपनी ने छापे के दौरान टैक्स अधिकारियों को पूरा सहयोग देने की बात भी कही। शाओमी ने भी विभाग को हर जरूरी जानकारी उपलब्ध कराने की बात कही है।

दिल्ली-एनसीआर में भी देर रात तक जांच

विभाग के सूत्रों के अनुसार, जांच के दायरे में मुख्य रूप से कंपनियों के उत्पादन इकाइयों को रखा गया है। इसके अलावा कुछ कॉरपोरेट और वितरण इकाइयों पर भी आयकर अधिकारियों की टीम जांच कर रही है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments