रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमIndia Newsदेश में फिर डराने लगा कोरोना, संक्रमित मरीजों के लक्षणों में आया...

देश में फिर डराने लगा कोरोना, संक्रमित मरीजों के लक्षणों में आया बदलाव

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का प्रकोप एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटों में देश में कोविड-19 के 12,847 नए मामले मिले हैं। इसके साथ ही कोरोना से अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या 4,32,70,577 हो गई है। पिछले एक दिन में 14 लोगों की मौत हुई है, जिससे मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 5,24,817 हो गई है। देश में अब एक्टिव मामले बढ़कर 63,063 है। चिंता की बात यह है कि दैनिक नए मामले सिर्फ एक हफ्ते के भीतर तीन हजार से 12 हजार जा पहुंचे हैं।

इसे कोरोना वायरस की चैथी लहर के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि स्वास्थ्य विशेषज्ञ कह रहे हैं कि चिंता की कोई बात नहीं है। पिछले एक साल में कोरोना ने अपने कई रूप बदले हैं और इस तरह कोरोना के लक्षणों में भी बदलाव आया है। अब सिर्फ खांसी, बुखार या सांस की कमी कोरोना के लक्षण नहीं रहे गए हैं। कोरोना फेफड़ों के अलावा सभी अंगों को प्रभावित कर रहा है इसलिए इसके लक्षणों को पहचानना और ज्यादा मुश्किल हो रहा है क्योंकि इसके अधिकतर लक्षण कई आम बीमारियों से मिलते-जुलते हैं।

देश में कोरोना के किन-किन वेरिएंट्स का खतरा

ओमीक्रोन वेरिएंट कोरोना वायरस का अब तक का सबसे प्रमुख स्ट्रेन रहा है। इस हफ्ते देश में दो नए वेरिएंट के मामले सामने आए हैं, जिन्हें बीए.4 और बीए.5 के रूप में जाना जाता है। बताया जाता है कि इन ओमीक्रोन के इन सब-वेरिएंट्स में सबसे ज्यादा तेजी से फैलने की क्षमता है।

कोरोना की चैथी लहर में बड़ा लक्षण-दस्त

एक रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में महाराष्ट्र में बीए.4 और बीए.5 के जो मामले मिले हैं, उन रोगियों में दस्त और बुखार से जुड़े लक्षण पाए गए हैं। इनके अलावा मौजूदा समय में जो कोरोना की चपेट में आ रहे हैं, उनमें बड़े लेवल पर दस्त की शिकायत देखी जा रही है। महामारी शुरू होने के बाद से डायरिया को कोरोना से जोड़ा गया है।

दस्त के अलावा पेट दर्द

कोरोना को श्वसन संबंधी समस्या माना जाता है, वास्तव में शरीर के हर अंग को प्रभावित करता है। डायरिया के अलावा मरीजों को पेट में ऐंठन या पेट में दर्द भी हो रहा है। यह दर्द अक्सर दस्त से जुड़ा होता है। डॉक्टरों ने यह भी कहा है कि पेट की समस्याओं के कारण लोगों को मतली और उल्टी का अनुभव हो रहा है।

यह भी पढ़े :- स्वाइन फ्लू से हुई मौतों से मचा हड़कंप, राजस्थान, यूपी सहित इन राज्यों में मिले केस

बुखार अब भी है बड़ा लक्षण

कोरोना वायरस की चैथी लहर के दौरान बुखार भी रोगियों में देखा जाने वाला एक अन्य सामान्य लक्षण है। लोगों में 105एफ तक का बुखार भी देखने को मिलता है। अगर आपको बुखार है, तो आपको सबसे पहले कोरोना की जांच करानी चाहिए।

कोरोना से बचाव के लिए क्या करें?

डॉक्टरों ने लोगों से डायरिया और बुखार के लक्षण दिखने पर उन्हें तुरंत जांच कराने की सलाह दी है। इससे संक्रमण की शीघ्र पहचान करने में मदद मिलेगी और कोरोना के नियमों का पालन करने से दूसरों को संक्रमण से बचाने में मदद मिल सकती है।

यह भी पढ़े :- डीजीसीए का बड़ा फैसला, एयरपोर्ट और विमान में मास्क लगाना हुआ अनिवार्य, उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments