शुक्रवार, दिसम्बर 9, 2022
Advertisement
होमIndia News6 राज्यों में कोरोना का बढ़ा खतरा: संक्रमित मरीजों की संख्या 1.52...

6 राज्यों में कोरोना का बढ़ा खतरा: संक्रमित मरीजों की संख्या 1.52 लाख के पार, दिल्ली में मंकीपॉक्स की दस्तक

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी ने एक बार फिर से लोगों की चिंता बढ़ा दी है। महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक और ओडिशा में कोरोना ने एक बार फिर दस्तक दे दी है। इन राज्यों में रोजाना केस एक हजार से ऊपर आ रहे हैं। पहले इस रेस में सिर्फ महाराष्ट्र और केरल थे, लेकिन अब इस लिस्ट में तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और ओडिशा भी शामिल हो गया है। इसके अलावा असम, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, हिमाचल प्रदेश मेघालय और आंध्र प्रदेश में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा मामले केरल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु से आ रहे हैं। यहां रोजाना केस दो हजार से ऊपर आ रहे।

इधर, बीते 24 घंटों में कोरोना के 20,279 नए मामले सामने आए हैं और 18,143 लोग स्वस्थ भी हुए। इस दौरान 36 मरीजों की जान भी चली गई। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक कुल 5,26,033 लोगों की मौत हुई है।

महाराष्ट्र में कोरोना का हाल

महाराष्ट्र में बीते 24 घंटों में कोरोना के 2,336 नए मामले सामने आए हैं और पांच लोगों की मौत हो गई। राज्य में महामारी की शुरुआत से अबतक मृतकों की तादाद 1,48,056 पर पहुंच गई है। राज्य में ठीक हो चुके कुल लोगों की कुल संख्या 78,69,591 हो गई है।

सात राज्यों में पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी के पार

देश के सात राज्य ऐसे हैं, जहां पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ज्यादा है। इन राज्यों में असम, सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मेघालय, केरल और बंगाल शामिल हैं। असम में पॉजिटिविटी रेट- 10.76%, सिक्किम में 19.47%, मेघालय में 27.86%, हिमाचल में 14.96%,उत्तराखंड में 13.79%, केरल में 12.35% और बंगाल में 12.64% रिकॉर्ड की गई। बंगाल और केरल को छोड़कर बाकी चार राज्यों में भले ही पॉजिटिविट रेट 10 फीसदी से ज्यादा हो, लेकिन यहां रोजाना केस एक हजार से नीचे है।

यह भी पढ़ें :- Monkeypox Case In Delhi : केरल के बाद दिल्ली में मिला मंकीपॉक्स का केस, WHO ने लोगों से की ये अपील…

दिल्ली में मंकीपॉक्स की दस्तक

कोरोना के बाद मंकीपॉक्स का भी खतरा बढ़ गया है। दिल्ली में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिल्ली में पहला रोगी मिलने की पुष्टि की है। यह मरीज मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। 31 वर्षीय व्यक्ति का कोई यात्रा इतिहास नहीं है, जिसे बुखार और त्वचा के घावों के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। भारत में इस बीमारी का यह चौथा मामला है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वह व्यक्ति हाल ही में हिमाचल प्रदेश के मनाली में एक पार्टी में शामिल हुआ था।

केरल में अब तक 3 मरीजों की पुष्टि

कोरोना के बाद राज्य में इस बिमारी से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या तीन हो गई। देश में मंकीपॉक्स का पहला मामला 14 जुलाई को दक्षिण केरल के कोल्लम जिले में सामने आया था। वहीं दूसरा मामला 18 जुलाई को और तीसरा मामला 22 जुलाई को सामने आया था। तीनों शख्स विदेश की यात्रा कर लौटे थे। साल 2021 में नोरोवायरस के मरीज भी सबसे पहले केरल में ही मिले।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments