सोमवार, अक्टूबर 3, 2022
Advertisement
होमIndia Newsगुलाम नबी आजाद के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका: पूर्व डिप्टी सीएम...

गुलाम नबी आजाद के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका: पूर्व डिप्टी सीएम समेत 64 नेताओं ने दिया इस्तीफा

जम्मू। कांग्रेस छोड़ने वाले गुलाम नबी आजाद लगातार पार्टी को झटके दे रहे हैं। जम्मू-कश्मीर कांग्रेस कमेटी को मंगलवार को एक बार फिर झटका मिला है। एक तरफ पार्टी गुलाम नबी आजाद के जाने के बाद डैमेज कंट्रोल करने के प्रयास कर रही है तो दूसरी तरफ पार्टी से नेताओं का इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है। गुलाम नबी आजाद के समर्थन में कई नेताओं के कांग्रेस छोड़ने के बाद मंगलवार को एक बार फिर से 65 नेताओं ने कांग्रेस छोड़ दी। इन नेताओं में पूर्व डिप्टी सीएम ताराचंद भी शामिल हैं। इन सभी नेताओं ने सोनिया गांधी को साझा इस्तीफा लिखा है। मंगलवार को पूर्व उपमुख्यमंत्री तारा चंद, पूर्व मंत्री अब्दुल मजीद वानी, पूर्व विधायक बलवान सिंह, पूर्व मंत्री डॉ. मनोहर लाल शर्मा, प्रदेश कांग्रेस महासिचव विनोद मिश्रा, विनोद शर्मा, नरिंद्र शर्मा समेत 64 नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। इन सभी नेताओं ने जम्मू में प्रेसवार्ता कर कांग्रेस का दामन छोड़ कर गुलाम नबी आजाद को समर्थन देने का एलान किया है। मीडिया से बात करते हुए बलवान सिंह ने कहा, ‘हमने गुलाम नबी आजाद के समर्थन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक संयुक्त इस्तीफा सौंपा है।’

उन्होंने कहा कि हमने सोनिया गांधी को लिखे इस्तीफे में बताया है कि कैसे पार्टी को लीडरशिप का संकट झेलना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि हाईकमान जिस तरह से काम कर रहा है, उससे पार्टी तबाह हो गई है। बलवान सिंह ने कहा कि हम दशकों तक कांग्रेस से जुडे़ रहे हैं, लेकिन हमारे साथ जैसा सलूक किया गया, वह अपमानजनक था। हमने अपने मेंटर गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस छोड़ने के बाद यह फैसला लिया है। जम्मू-कश्मीर के बेहतर भविष्य के लिए हम उनके साथ जाएंगे।

उधर, मंगलवार को कांग्रेस जम्मू में शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में है। नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष विकार रसूल के साथ एआईसीसी की जम्मू-कश्मीर व लद्दाख मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल मंगलवार को जम्मू पहुंच रही हैं। दोनों नेताओं का जम्मू एयरपोर्ट से पार्टी मुख्यालय तक रैली की शक्ल में जोरदार स्वागत करके पार्टी के डैमेज कंट्रोल करने की योजना है।

इससे पहले सोमवार को पूर्व डिप्टी स्पीकर गुलाम हैदर मलिक सहित कांग्रेस के तीन और नेताओं ने सोमवार को दिग्गज राजनेता गुलाम नबी आजाद के समर्थन में पार्टी से इस्तीफे की घोषणा की। कठुआ के बनी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक हैदर मलिक, कठुआ से पूर्व एमएलसी सुभाष गुप्ता सहित डोडा से पूर्व एमएलसी श्याम लाल भगत ने पार्टी आलाकमान को अपने इस्तीफे भेजे थे। आजाद के करीबी सहयोगी एवं पूर्व मंत्री जी एम सरूरी ने इस बारे में सोमवार को कहा था कि उन्हें मलिक, गुप्ता और भगत के समर्थन के लिए पत्र मिले हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments