शुक्रवार, दिसम्बर 2, 2022
Advertisement
होमCrime Newsतमिलनाडु में संदिग्ध हालात में मिला 12वीं की छात्रा का शव, 2...

तमिलनाडु में संदिग्ध हालात में मिला 12वीं की छात्रा का शव, 2 हफ्ते में ऐसी तीसरी घटना

कुड्डालोर। तमिलनाडु में पिछले कुछ दिनों से स्कूली छात्राओं के शव मिलने की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। कल्लाकुरिची और तिरुवल्लूर में ऐसी घटनाएं सामने आने के बाद अब कुड्डालोर में भी एक छात्रा का शव बरामद हुआ है। कुड्डालोर में 12वीं में पढ़ने वाली एक छात्रा का शव संदिग्ध हालात में मिलने से सनसनी फैल गई है। तमिलनाडु में दो हफ्तों में छात्राओं के शव मिलने की यह तीसरी घटना है। संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस ने केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। कुड्डालोर के एसपी ए शक्ति गणेशन ने कहा है कि घरेलू मामलों के कारण छात्रा ने सुसाइड कर लिया है।

पुलिस ने जानकारी दी है कि 12वीं की छात्रा ने सुसाइड नोट में कहा है कि वह आईएएस बनने की अपने मां-बाप का सपना पूरा नहीं कर पाई इस कारण उसने ऐसा कदम उठाया है। पुलिस ने जानकारी दी है कि छात्रा के मां-बाप किसान हैं। उन्होंने पुलिस को बिना बताए ही उसका अंतिम संस्कार करने का प्रयास किया था।

इससे पहले 25 जुलाई को भी ऐसी ही एक घटना तमिलनाडु के तिरुवल्लूर जिले में भी सामने आई। जिले के एक सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल के हॉस्टल में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली 17 साल की छात्रा का शव संदिग्ध हालात में मिला था। उसका शव हॉस्टल के कमरे में मिला था। कथित तौर पर उसके सुसाइड कर लेने की बात सामने आई थी। पुलिस ने छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए तिरुवल्लूर के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भेजा था।

13 जुलाई को भी मिला था एक छात्रा का शव

इससे पहले तमिलनाडु के कुड्डालोर जिले के कृषि प्रधान पेरियानसल्लूर गांव के हजारों लोग पिछले दिनों 12वीं कक्षा की उस छात्रा के अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे। उसका शव 13 जुलाई को कल्लाकुरिची स्थित स्कूल के छात्रावास परिसर में मिला था। पड़ोसी गांवों के लोगों ने भी छात्रा को श्रद्धांजलि दी थी। दोपहर करीब साढ़े दस बजे शुरू हुए अंतिम संस्कार के दौरान छात्रा के शोकाकुल पिता के साथ उनका 17 वर्षीय बेटा, परिवार के अन्य सदस्य और ग्रामीण मौजूद थे। छात्रा के पिता ने अपनी बेटी की मौत के मामले में न्याय की गुहार लगाई।

माता-पिता ने मौत पर उठाए थे सवाल

कल्लाकुरिची जिले के कनिमयूर में मैट्रिक स्कूल की कक्षा 12वीं कक्षा की छात्रा 13 जुलाई को स्कूल के छात्रावास परिसर में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिली थी, जिसके बाद विरोध प्रदर्शन हुआ था। छात्रा के माता-पिता ने लड़की की मौत पर संदेह जताते हुए शव को स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने अदालत से अनुरोध किया था कि उनकी पसंद के डॉक्टर की उपस्थिति में फिर से पोस्टमॉर्टम किया जाए। हालांकि उच्चतम न्यायालय ने याचिका खारिज कर दी थी।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments