मंगलवार, अगस्त 16, 2022
Advertisement
होमIndia NewsBihar National Highway : बिहार का गड्ढों वाला नेशनल हाइवे, एक किमी...

Bihar National Highway : बिहार का गड्ढों वाला नेशनल हाइवे, एक किमी तक सड़क पर गड्ढे ही गड्ढे

Bihar National Highway : पटना। हर सभा में राज्य में सड़कों का जाल बिछाने का दावा करने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की इन दिनों मधुबनी जिला स्थित नेशनल हाईवे की स्थिति के कारण किरकिरी हो रही है। भारतमाला प्रोजेक्ट अंतर्गत आने वाली एनएच 227 (एल) में कलुआही से हरलाखी के बीच लगभग 150 से अधिक छोटे-बड़े गड्ढे बने हुए हैं, जिसमें सबसे बड़ा गड्ढा 110 फिट लंबी व 50 फिट चैड़ा है। यह गड्ढा प्रत्येक 10 से 20 फीट पर बना हुआ है। वहीं, गड्ढों की गहराई 3 फिट के करीब हैं।

हल्की सी बारिश में उक्त एनएच छोटे बड़े तालाब के स्वरूप में आ जाता है। इस सड़क से छोटी गाड़ियों समेत ट्रक और डंपर जैसे बड़े वाहन भी गुजरते हैं, जिससे हादसों का डर बना रहता है। स्थानीय लोगों का कहना है कि पिछले 7 सालों से सड़क की ऐसी ही हालत है, लेकिन किसी को कुछ फर्क नहीं पड़ता। वहीं, सड़क बनाने वाला ठेकेदार फरार है।

दरअसल, इन दिनों बिहार के नेशनल हाईवे का ड्रोन से बनाया गया वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में बिहार के मधुबनी से गुजरने वाली रोड की बदहाली दिखाई गई है। वीडियो में साफ-साफ देखा जा सकता है कि एक किलोमीटर के अंदर सड़क पर 23 से अधिक गड्ढे हैं। इसी तरह कलुआही से हरलाखी तक करीब 20 किलोमीटर की सड़क में सैंकड़ों खतरनाक गड्ढे बने हुए हैं। सड़क निर्माण कार्य विभाग द्वार समय से नहीं होने के कारण यह रास्ता जर्जर व जानलेवा बना हुआ है।

साल 2015 से ही है हाईवे की ये दुर्दशा

गौरतलब है कि साल 2015 से ही एनएच-227 पूरी तरह से जर्जर हो चुका था। इसे बनाने में अब तक तीन बार टेंडर पास किए जा चुके हैं, लेकिन ठेकेदारों की लापरवाही के चलते इसका काम सही से नहीं किया गया। ठेकेदार टेंडर मिलने के बाद सड़क पर कुछ दूर तक ही काम करते हैं और काम बीच में ही छोड़ कर भाग जाते हैं। इस सड़क की मरम्मत के लिए साल 2020 में 20 करोड़ रुपये का टेंडर पास किया गया था। हाईवे के काम में ठेकेदार में लगाए गए थे, लेकिन उन्होंने निर्धारित समय सीमा पर काम नहीं किया। इसके बाद एनएचएआई ने उन्हें हटा दिया। अब यह मामला कोर्ट में चल रहा है।

प्रशांत किशोर कसा नीतीश कुमार पर तंज

इधर, राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने वीडियो को साझा करते हुए सूबे के मुखिया नीतीश कुमार पर तंज कसा है। उन्होंने गुरुवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, 90 के दशक के जंगलराज में बिहार में सड़कों की स्थिति की याद दिलाता यह बिहार के मधुबनी जिले का नेशनल हाईवे 227 (एल) है। अभी हाल में ही नीतीश कुमार एक कार्यक्रम में पथ निर्माण विभाग के लोगों को बोल रहे थे कि बिहार में सड़कों की अच्छी स्थिति के बारे में उन्हें सबको बताना चाहिए।

सड़क के किनारे स्थित दुकान के मालिकों का कहना है कि गर्मी में धूल तो बारिश में पानी के कारण भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कई बार सड़क हादसे होते हैं। बार-बार सड़क की मरम्मत कराने को लेकर आवेदन दिया जाता है लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती। इधर, सड़के बनाने वाले ठेकेदार का कहना है कि पेमेंट क्लिटर नहीं हुआ, इस कारण काम बंद है। वहीं दूसरी ओर पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने इसस मामले के सामने आने के बाद कहा कि “मामला संज्ञान में आते ही टीम का गठन किया गया है। अधिकारियों को जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इससे संबंधित ठेकेदारों पर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़े :- अयोध्या में राम की पैड़ी पर पति को किस करना पड़ा भारी, लोगों ने की पिटाई

यह भी पढ़े :- दिल्ली वासियों को ट्रैफिक की समस्या से मिलेगी निजात: पीएम मोदी ने प्रगति मैदान कोरिडोर का किया उद्घाटन
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments