बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia Newsनीतीश कुमार होंगे विपक्ष के पीएम उम्मीदवार! जानिए तेजस्वी यादव ने क्या...

नीतीश कुमार होंगे विपक्ष के पीएम उम्मीदवार! जानिए तेजस्वी यादव ने क्या कहा

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में उभरने की चर्चा को लेकर राजद नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने जवाब दिया है। तेजस्वी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए साक्षात्कार में कहा कि यदि विपक्ष द्वारा विचार किया जाता है, तो नीतीश कुमार प्रधानमंत्री के मजबूत उम्मीदवार हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि देश में नीतीश कुमार की छवि बहुत अच्छी है इसलिए उनके प्रबल दावेदार होने की पूर्ण संभावना है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि क्षेत्रीय दलों, अन्य प्रगतिशील राजनीतिक समूहों को संकीर्ण लाभ, हानि से परे देखना होगा और गणतंत्र को बचाना होगा। तेजस्वी ने भाजपा के ‘जंगल राज’ के आरोप को बेकार और बेमानी बताया।

नेताओं की बयानबाजी

दरअसल एनडीए से नाता तोड़ने के बाद फिर से महागठबंधन के साथ मिलकर सरकार बनाने वाले नीतीश के बारे में कई तरह तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। इन कयासों को उस समय बल मिला जब जेडीयू के वरिष्ठ नेता उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश को पीएम पद का मैटेरियल बताते हुए कहा था कि पूरा देश उनका इंतजार कर रहा है। यही नहीं नीतीश की पार्टी के नेता और सांसद संतोष कुशवाहा ने तो बकायदा बयान जारी कर कहा था कि किसी को भी यह संदेह नही होना चाहिए कि नीतीश कुमार जी पीएम मेटेरियल थे, आज भी हैं और भविष्य में भी रहेंगे। नीतीश कुमार प्रधानमंत्री भी बनेंगे।

भाजपा लगातार क्षेत्रीय असमानताओं को नजरअंदाज कर रही

तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा की कोशिश लगातार क्षेत्रीय असमानताओं को नजरअंदाज करने की रही है। बिहार को विशेष ध्यान देने की जरूरत है, इससे कोई इनकार नहीं कर सकता। लेकिन क्या हमें केंद्र से ज्यादा कुछ मिला है? यादव ने जोर देकर कहा कि क्षेत्रीय दलों और अन्य प्रगतिशील राजनीतिक समूहों को अपने संकीर्ण लाभ और हानि से परे देखना होगा और गणतंत्र को बचाना होगा। तेजस्वी ने कहा कि अगर हम विनाश को अभी नहीं रोकते हैं तो इसका पुनर्निर्माण करना बहुत मुश्किल होगा।

जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह का बयान

इससे पहले जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह ने बयान देते हुए कहा, ‘नीतीश कुमार का मुख्य ध्यान 2024 के लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों को एकजुट करने पर है। उन्होंने कहा कि वह अगले सप्ताह बिहार विधानसभा में विश्वास मत के बाद विभिन्न दलों के नेताओं से मिलने के लिए राष्ट्रीय राजधानी का दौरा करेंगे। अगर अन्य दल चाहें तो वह एक विकल्प हो सकते हैं।’

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments