बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
Advertisement
होमIndia Newsदिल्ली विधानसभा में 'ऑपरेशन लोटस' की गूंज: केजरीवाल ने लगाया आरोप, केंद्र...

दिल्ली विधानसभा में ‘ऑपरेशन लोटस’ की गूंज: केजरीवाल ने लगाया आरोप, केंद्र सरकार अब तक की सबसे भ्रष्ट सरकार

नई दिल्ली। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के बाद ऑपरेशन लोटस को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में विश्वासमत प्रस्ताव पेश किया। प्रस्ताव से पहले भाजपा विधायकों ने सीवर-पानी और भ्रष्टाचार पर चर्चा कराने की मांग की, जिसके बाद सभी विधायकों को पूरे दिन के लिए सदन से मार्शल आउट यानी बाहर कर दिया गया। भाजपा विधायकों के बाहर आने के बाद भी आप विधायक भाजपा के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।

टैक्स लगाती जा रही है केंद्र सरकार: केजरीवाल

इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा विधायकों के रवैए की कड़ी निंदा की। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा विधायक चर्चा करना नहीं चाहते, वह केवल हंगामा करने की नियत से सदन में आते हैं। इसी कारण उन्हें सदन से बाहर निकाला गया। मुख्यमंत्री ने कहा आज देश में महंगाई अपनी चरम पर है, लोगों के घरों में खाना बनाना मुश्किल हो गया है। केंद्र सरकार ने हर मामले में टैक्स लगा दिया है। इतना टैक्स कभी भी नहीं लगा था। देश आजाद होने के बाद कभी भी दूध, दही, अनाज, दाल, चावल, चीनी पर टैक्स नहीं लगा था। अंग्रेजों ने भी कभी यह टैक्स नहीं लगाए।

‘भाजपा का ऑपरेशन लोटस हुआ फेल’

केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायक ईमानदार हैं इसलिए एक भी विधायक नहीं बिका और भाजपा का ऑपरेशन लोटस दिल्ली में फेल हो गया। जनता को विश्वास दिलाने और उसे बताने के लिए कि हमारा एक भी विधायक नहीं बिका और भाजपा खरीदने में कामयाब नहीं हो सकी इसी कारण हम विश्वास प्रस्ताव लेकर आए हैं। उन्होंने कई राज्यों की सरकार गिरा दी, ये सरकारें कैसे गिरी यह एक रोचक तथ्य है। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि झारखंड की सरकार गिराई जाएगी, इस कार्य में केंद्र सरकार जुटी हुई है और वह सरकार गिराने के लिए डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ाकर पैसे का इंतजाम करेगी।

‘पूंजीपतियों को लाभ पहुंचा रही केंद्र सरकार’

केजरीवाल ने कहा कि पिछले दिनों संसद में केंद्र सरकार ने खुद माना है कि 10000 लाख करोड़ कर्जा माफ पूंजीपतियों कर किया गया है। किसान कर्ज से परेशान हैं, वह दर-दर की ठोकरे खा रहे हैं। मगर उनका कर्जा माफ नहीं किया जा रहा है। उनकी उनकी जमीन की कुर्की की जा रही है। इसी तरह छात्रों का भी कर्जा माफ नहीं किया जा रहा और कर्जा नहीं देने पर छात्रों के पिता की कृषि भूमि को गिरवी रख रहे हैं।

मौजूदा केंद्र सरकार अब तक की सबसे भ्रष्ट सरकार

केजरीवाल ने भाजपा की केंद्र सरकार आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा केंद्र सरकार आजादी के 75 साल की सबसे भ्रष्ट सरकार है। 10 लाख करोड़ इनके दोस्त खा गए। 6300 करोड़ में इन्होंने MLAs खरीदे और लाल किले से कहते हैं- मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं।

दिल्ली में केजरीवाल की सरकार गिराना चाहती है भाजपा : अतिशी

आप विधायक अतिशी ने कहा कि भाजपा किसी तरह से अरविंद केजरीवाल की सरकार गिराना चाहती है। उनकी साजिश दिल्ली में नाकाम रही है। दिल्ली की जनता भी जानना चाहती है कि जो सरकार दिल्ली में है क्या वह स्थिर है, क्या वह सरकार बनी हुई है। इसे लेकर आज विश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है।
BJP किसी तरह से अरविंद केजरीवाल की सरकार गिराना चाहती है। उनकी साजिश दिल्ली में नाकाम रही है। दिल्ली की जनता भी जानना चाहती है कि जो सरकार दिल्ली में है क्या वह स्थिर है क्या वह सरकार बनी हुई है। इसे लेकर आज विश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है।

विधानसभा में शुक्रवार को हुआ था बवाल

इससे पहले शुक्रवार को विधानसभा का एक दिन का विशेष सत्र बुलाया गया था। इस दौरान केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया के आवास पर हुई छापेमारी मामले में दावा किया कि सीबीआई ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के आवास पर 14 घंटे तक छापेमारी की लेकिन उसे कुछ नहीं मिला। उन्होंने कहा कि सीबीआई को ना तो नकदी मिली ना ही ज्वेलरी। सीबीआई को छापेमारी के दौरान किसी जमीन या संपत्ति के कागज तक नहीं मिले और ना ही कोई आपराधिक दस्तावेज मिला। उन्होंने दावा किया कि यह छापेमारी फर्जी थी।

केजरीवाल ने लगाया आरोप-5,500 करोड़ में खरीदे 277 विधायक

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि भाजपा वाले महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गोवा में ऑपरेशन लोटस चला चुके हैं। झारखंड में भी कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली में भी इन्होंने कोशिश की थी, लेकिन फेल हो गए। 800 करोड़ धरे के धरे रह गए इनके। केजरीवाल ने कहा कि भाजपा में 277 विधायक शामिल हुए हैं। अगर प्रत्येक विधायक को 20 करोड़ रुपये दिए गए तो सभी विधायक खरीदने में 5,500 करोड़ रुपये खरीदे गए होंगे। इसीलिए महंगाई बढ़ गई है क्योंकि वे विधायकों को खरीदने के लिए आम आदमी के पैसे का उपयोग कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments