शुक्रवार, दिसम्बर 9, 2022
Advertisement
होमCovid 19 Newsकोविड की तीसरी लहर आने की आशंका के बीच बड़ा खतरा आया...

कोविड की तीसरी लहर आने की आशंका के बीच बड़ा खतरा आया सामने, दिल्ली में लगातार बढ़ रहे पोस्ट कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस के मामले

देश में बढ़ते कोरोना के मामले तीसरी लहर के खतरे को लेकर सचेत कर रहे हैं और वहीं दिल्‍ली में पोस्‍ट कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी नई चिंता का विषय बन गई है।


खास बातें

•दिल्‍ली में पैदा हुई कोविड को लेकर नई चिंता

•पोस्‍ट कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस के मामले बढ़े

•राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल में रोजाना आ रहे हैं पोस्‍ट कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस के मामले


कोरोनावायरस की तीसरी लहर आने के खतरे के बीच दिल्‍ली में एक और चिंताजनक स्थिति शुरू हो गई है।

दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में पोस्ट कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस के मामलों की संख्‍या लगातार बढ़ गई है। हॉस्पिटल के वरिष्‍ठ चिकित्‍सक डॉ. एम वली ने बताया है कि हॉस्पिटल में कोविड के बाद होने वाली परेशानियों के रोजाना कम से कम 5-6 पेशंट आ रहे हैं।

कोविड के बाद हो रही हैं ये समस्‍याएं कोरोना से ठीक होने के बाद अब मरीजों को मांसपेशियों में ऐंठन, मतली, थकान, बालों का बहुत अधिक झड़ना, ब्रेन फॉग जैसी समस्‍याएं हो रही हैं।

डॉ.वली ने इन पोस्‍ट- कोविड कॉम्‍प्‍लीकेशंस को लेकर कहा है कि, ‘ये पेशंट पहली और दूसरी लहर के हैं, जिनमें पेशंट्स को मांसपेशियों में ऐंठन, मतली आना, थकान होना, बहुत ज्‍यादा बाल झड़ना और पल्पिटेशन जैसी परेशानियां हो रही हैैं।

इसके अलावा ब्रेन फॉग यानी कि याददाश्‍त, फोकस, मानसिक अस्‍पष्‍टता की परेशानी भी सामने आई हैं कई लोगों ने दिल की समस्‍या होने का दावा भी किया हैं, वहीं कुछ लोगों को आंखों की रोशनी कम होने या आंखों में दर्द होने की दिक्‍कत है।

डाॅक्टर के मुताबिक ये सभी पोस्ट कोविड सिंड्रोम हैं और वैज्ञानिक भाषा में हम इन्‍हे लंबे समय तक चलने वाले लक्षण कह सकते हैं। न करें बिल्कुल भी अनदेखी डॉ. वली का कहना हैं कि, ‘लंबे समय तक चलने वाली इन समस्याओं की पहचान करना बहुत जरूरी है।

जिन लोगों को कोरोना हुआ है, उन्‍हें इस तरह की कॉम्‍प्‍लीकेशंस का ध्यान रखना चाहिए। इस सब के अलावा कुछ लोगों को सांस लेने में भी दिक्‍कत हो रही है, जो इस बात का संकेत है कि हमें ज्‍यादा बेड की जरूरत है।

इन लोगों को आईसीयू की जरूरत नहीं होगी लेकिन ऑक्‍सीजन का इंतजाम रखना जरूरी है। आपको बता दें कि इस बीच दिल्ली में गुरुवार को कोरोनावायरस के 49 नए केस सामने आए हैं यहां मामलों के पॉजिटिव आने का दर 0.07 प्रतिशत रहा। ‌साथ ही लगातार दूसरे दिन राजधानी में कोविड की वजह से कोई भी मौत दर्ज नहीं हुई है।

TPV News Desk
TPV News Deskhttp://tpvnews.in
TPV News This is TPV Newsroom Digital Desk. Where form TPV News Editors Publish Digital Content. For any Query Connect at [email protected]
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments