रविवार, नवम्बर 27, 2022
Advertisement
होमIndia Newsअखिलेश यादव ने जाति जनगणना के समर्थन पर लगाया दांव

अखिलेश यादव ने जाति जनगणना के समर्थन पर लगाया दांव

उत्तरप्रदेश: समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि वह सरकार बनाने के बाद प्राथमिकता के आधार पर जाति जनगणना कराने के लिए एक “टेलीफोन लाइन” स्थापित करेंगे। 

जो भाजपा पार्टी की सदस्यता या नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन के लिए “मिस्ड कॉल” के समान है।

अखिलेश केशव देव मौर्य के नेतृत्व की एक छोटी पार्टी महान दल के कार्यकर्ताओं की एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे, जो शाक्य, सैनी, कुशवाहा, मौर्य जैसे गैर-यादव ओबीसी का प्रतिनिधित्व करती है। 

जिसने 2022 के चुनावों के लिए छोटी पार्टियों के साथ गठबंधन की रणनीति के अनुरूप सपा के साथ गठबंधन किया है। ।

यादव ने कार्यकर्ताओं को यह आश्वासन भी दिया कि अगर केंद्र जाति जनगणना कराने के लिए राजी नहीं हुआ तो सपा सत्ता में आने के बाद ऐसा करेगी।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यादव ने कहा कि, ‘केंद्र सरकार जाति जनगणना नहीं करवाना चाहते हैं। उन्होंने हमारे बीच पिछड़ापन पैदा कर दिया है कि यादव दूसरे पिछड़े वर्गों के अधिकार छीन रहे हैं। 

अखिलेश ने कहा कि इस तकनीकी युग में जनगणना करवाने में कितना समय लगेगा? 

आज के समय में सबके के पास बैंक रिकॉर्ड, जन धन डेटा, गांवों में मोबाइल पंजीकरण, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र और  ऐसे कई साधन हैं। 

जिनके माध्यम से जानकारी एकत्र की जा सकती है। अगर हमें इसके अलावा और जानकारी चाहिए तो हमें केवल 100-200 फोन की एक टेलीफोन लाइन लगानी होगी। 

जिसपर कोई भी कॉल करके अपने आप पंजीकृत हो सकता है जैसे भाजपा ने सदस्यता या नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन के लिए जनता से मिस्ड कॉल करने के लिए कहा। 

हम भी वहीं करेंगे जिसमें फोन उठाओ और अगर आप शाक्य, सैनी, कुशवाहा या मौर्य हैं तो एक दबाएं, अगर आप यादव हैं तो तीन दबाएं, इससे जनगणना अपने आप की जा सकती है।

आपको बता दें कि पिछले हफ्ते, बसपा प्रमुख मायावती ने भी जनगणना की अपनी मांग दोहराते हुए कहा कि अगर केंद्र सरकार इस दिशा में कोई पाॅजिटिव कदम उठाता है तो बसपा संसद के भीतर और बाहर दोनों जगह इसका समर्थन करेगी।

TPV News Desk
TPV News Deskhttp://tpvnews.in
TPV News This is TPV Newsroom Digital Desk. Where form TPV News Editors Publish Digital Content. For any Query Connect at [email protected]
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments